Hindi News »Haryana »Gurgaon» नर्सिंग स्टाफ ने अपनी मांगों को लेकर निकाला कैंडिल मार्च

नर्सिंग स्टाफ ने अपनी मांगों को लेकर निकाला कैंडिल मार्च

नर्सिंग स्टाफ एसोसिएशन ने वेतन विसंगतियों व पदोन्नति के लिए शनिवार को सिविल अस्पताल से लेकर पीडब्ल्यूडी मंत्री...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 18, 2018, 02:05 AM IST

नर्सिंग स्टाफ ने अपनी मांगों को लेकर निकाला कैंडिल मार्च
नर्सिंग स्टाफ एसोसिएशन ने वेतन विसंगतियों व पदोन्नति के लिए शनिवार को सिविल अस्पताल से लेकर पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर के घर तक कैंडल मार्च निकाला। इसके बाद उन्होंने अपनी मांगों को लेकर पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर के प्रतिनिधि ज्ञापन सौंपा। नर्सिंग स्टाफ की मांग है कि अन्य पैरामेडिकल स्टाफ की तर्ज पर पे-स्केल में बढ़ोतरी की जाए। पीजीआईएमएस चंडीगढ और रोहतक में कार्यरत स्टाफ के समान प्रदेश के अन्य सिविल अस्पताल में काम करने वाली नर्स स्टाफ को भी नर्सिंग अलाउंस और रिस्क अलाउंस की दरकार है। गुड़गांव नर्सिंग स्टाफ एसोसिएशन की जिला प्रधान कमलेश सिवाच ने बताया कि छठे व सातवें वेतन आयोग में स्टाफ नर्स के साथ भेदभाव हुआ है। नर्सिंग स्टाफ को 4200 पे ग्रेड पर फिक्स कर दिया है जबकि, अन्य पैरामेडिकल स्टाफ का ग्रेड 3600 से बढ़ाकर 4200 कर दिया है। नर्सिंग स्टाफ का ग्रेड पहले भी 4200 ही था। नर्सिंग स्टाफ नाइट ड्यूटी करती है, रिस्क जोन में रहती है फिर भी इन्हें रिस्क अलाउंस नहीं दिया जाता।

सिवाच ने बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिला अस्पताल में काम करने वाली नर्सों को भी केंद्रीय स्टाफ नर्स के समान वेतन व अन्य भत्ते मिलने चाहिए। नर्सिंग स्टाफ के पद व नाम को बदलकर नर्सिंग ऑफिसर रखा जाए। परमोशन पॉलिसी बनाई जाए।

गुड़गांव. अपनी मांगों को लेकर कैंिडल मार्च निकालती नागरिक अस्पताल की नर्सें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×