Hindi News »Haryana »Gurgaon» गलत हाउस टैक्स लेने पर ब्याज समेत लौटाएंगे राशि, बनेगी नीति

गलत हाउस टैक्स लेने पर ब्याज समेत लौटाएंगे राशि, बनेगी नीति

सीएम मनोहर लाल ने शनिवार को लघु सचिवालय में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक की। कहा कि शहरी क्षेत्र में प्रॉपर्टी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 02:05 AM IST

सीएम मनोहर लाल ने शनिवार को लघु सचिवालय में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक की। कहा कि शहरी क्षेत्र में प्रॉपर्टी टैक्स ज्यादा वसूलने पर उस प्रॉपर्टी के मालिक को वसूली अधिक राशि ब्याज समेत लौटाने की पॉलिसी राज्य सरकार बनाएगी। उसमें कुछ प्रतिशत उस अधिकारी और कर्मचारी पर भी डाला जाएगा, जिसकी वजह से हाउस टैक्स का गलत डिमांड नोटिस उस प्रॉपर्टी मालिक को भेजा गया था। गुड़गांववासियों के लिए सीएम की यह घोषणा काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। यहां 60 फीसदी से अधिक टैक्स नोटिस गलत पाए जा रहे हैं। इस संबंध में अब तक 1.5 लाख से अधिक शिकायतें मिली हैं। लोग सुधार के लिए निगम कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं।

बैठक में कुल रखी गई 26 शिकायतों में से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा हुआ। एक शिकायत का निपटारा करते हुए सीएम ने पटौदी क्षेत्र के पटवारी सोमबीर को डीटीपी की सिफारिश पर निलंबित करने के आदेश दिए। यह मामला गांव भौड़ाकलां में औद्योगिक क्षेत्र के साथ बनी अवैध कॉलोनियों का था, जिसमें शिकायतकर्ता का कहना था कि उस औद्योगिक क्षेत्र में काम करने वाले स्थानीय लोग अवैध अनधिकृत कॉलोनियों में रहते हैं और खुले में शौच जाते हैं, जिससे बीमारी फैलने का खतरा रहता है। मामले की जांच करने के बाद डीटीपी (एंफोर्समेंट) ने बताया कि उस क्षेत्र में साल 2014-15 में अवैध कॉलोनियों को हटाया गया था, लेकिन ये अब दोबारा बन गई हैं। मामले में पटवारी को दोषी पाया गया, जो अवैध रूप से विकसित हो रही कॉलोनियों की सूचना देने में विफल रहा। डीटीपी ने बताया कि पटवारी को पहले भी कई बार सचेत किया गया है, लेकिन वे अपने काम के प्रति लापरवाह हैं। इस मामले की सुनवाई के दौरान सीएम ने कहा कि भौड़ाकलां में औद्योगिक क्षेत्र के पास भवन निर्माण किया जा सकता है अथवा नहीं, इसकी वैधानिक स्थिति की जांच डीसी विनय प्रताप सिंह करेंगे और तहसीलदारों को इस संबंध में दिशा निर्देश देंगे। साथ ही उन्होंने सभी तहसीलों के पिछले 6 महीने की रजिस्ट्री के रिकॉर्ड की जांच कराने के भी आदेश दिए।

सड़क में घटिया सामग्री के लिए जेई निलंबित

गांव बसतपुर से कापड़ीवास तक तथा गांव चंदु से गढ़ी गोपालपुर तक हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा गत वर्ष सितंबर-अक्टूबर में बनाई गई सड़क में घटिया सामग्री का प्रयोग करने के दोषी पाए गए जेई को निलंबित करने तथा एसडीओ व एक्सईएन को रूल सात में चार्जशीट करने के आदेश दिए। शिकायत फर्रुखनगर मार्केट कमेटी के चेयरमैन वीरेंद्र यादव ने की थी। बैठक में पीडब्ल्यूडी मंत्री राव नरबीर सिंह, गुड़गांव विधायक उमेश अग्रवाल, पटौदी की विधायक बिमला चौधरी, सोहना के विधायक तेजपाल तंवर मौजूद रहे।

सीएम मनोहर लाल ने दी दो सौगातें

गुड़गांव. लघु सचिवालय में कष्ट निवारण समिति की बैठक लेते मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और अन्य गणमान्य।

लघु सचिवालय में मीडिया सेंटर का उद्घाटन किया, प्रदेश भर के सेंटर्स पर होंगे Rs.2.25 करोड़ खर्च

गुड़गांव| सीएम ने शनिवार को गुड़गांव में अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित मीडिया सेंटर का उद्घाटन किया। सेंटर लघु सचिवालय की पांचवीं मंजिल पर बनाया गया है। सीएम ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में मीडिया सेंटर स्थापित किए गए हैं, जिन पर लगभग सवा दो करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा हर जिले में स्थापित मीडिया सेंटर्स के रख-रखाव का पूरा खर्च सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के माध्यम से सरकार वहन करेगी। मीडियाकर्मियों के लिए सेंटर में कंप्यूटर, प्रिंटर, वाई-फाई युक्त ब्राडबैंड कनेक्शन, एलईडी, एयर कंडिशनर, फ्रिज, आरओ, फर्नीचर सहित अन्य आवश्यक उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इस अवसर पर राव नरबीर, उमेश अग्रवाल, बिमला चौधरी, तेजपाल तंवर मौजूद रहे। उद्धाटन शिलापट पर केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत और मंत्री कविता जैन का नाम भी दर्ज था, मगर दोनों नहीं पहुंचे।

82.40 करोड़ रुपए की लागत से बने बूस्टिंग स्टेशन का उद्घाटन, बसई प्लांट से की जाएगी सप्लाई

गुड़गांव| मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार को सेक्टर-16 पार्ट-2 में वाटर बूस्टिंग स्टेशन का उद्घाटन किया। लगभग 8 एकड़ की भूमि पर बनाए गए इस वॉटर बूस्टिंग स्टेशन पर लगभग 82.40 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। आम तौर पर बूस्टिंग स्टेशन अधिकतम 3 करोड़ रुपए की लागत आ रही थी। दावा किया जा रहा है कि इस बूस्टिंग स्टेशन के शुरू होने के बाद गुरुग्राम जिले की लगभग साढ़े तीन लाख आबादी को पहले की अपेक्षा अधिक सुचारू पेयजल आपूर्ति की जाएगी। इस बूस्टिंग स्टेशन के संचालित होने से शहर के सेक्टर-30, 31, 32, 38, 39,40, जलवायु विहार, झाड़सा गांव तथा आस पास के एरिया सहित डीएलएफ साइबर सिटी में पेयजल आपूर्ति पहले की अपेक्षा अधिक बेहतर हो जाएगी। स्टेशन में 6500 किलोलीटर क्षमता का एक अंडरग्राउंड टैंक भी बनाया गया है। यहां पर जलापूर्ति बसई स्थित वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से की जाएगी।

चौटाला के आरोपों की होगी जांच

दवा व उपकरण खरीद के बारे में पूछे गए प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसद दुष्यंत चौटाला द्वारा संज्ञान में लाई गई अनियमितताओं की जांच कराई जाएगी। जांच में जो कोई दोषी होगा उसे छोड़ा नहीं जाएगा। पिछले दिनों चौटाला ने आरोप लगाया था कि हरियाणा में पिछले तीन सालों में करोड़ों रुपए की दवाएं, चिकित्सा उपकरण और अन्य सामान खरीदे गए। दवाओं की खरीद में जमकर धांधली हुई है। इनके लिए निर्धारित नियमों का ना तो पालन किया गया और ना ही उनकी कीमतों का ध्यान रखा गया। इसमें सरकारी नियमों की जमकर धज्जियां उड़ाई गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×