चार दिन से गेहूं की खरीद बंद होने से किसान हैं परेशान, ऊपर से छाए बादलों ने बढ़ाई चिंता

Gurgaon News - मौसम विभाग द्वारा बरसात होने की संभावना जताने और आसमान में घुमड़ते काले बादलों के देख किसानों को चिंता होने लगी है।...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:30 AM IST
Farrukh Nagar News - farmers are worried over the closure of wheat procurement for four days
मौसम विभाग द्वारा बरसात होने की संभावना जताने और आसमान में घुमड़ते काले बादलों के देख किसानों को चिंता होने लगी है। उन्हें भय है कि अनाज मंडी में खुले आसमान के नीचे पड़ी उनकी गेहूं, सरसों, जौ की फसल खराब न हो जाए। पिछले दो दिनों से गेहूं की सरकारी खरीद भी नहीं हुई है। बावजूद इसके भी मंडी में लगातार गेहूं की आवक बढ़ रही है। मंडी की हालत यह है कि गेहूं उतारने की जगह तक नहीं बची है। दूसरी तरफ मंडी के बाहर एक ही धर्मकांटा होने के कारण जाम के हालात बने हुए है।

जाम के चलते खरीदे गए गेहूं को ट्रांसपोर्ट द्वारा गोदाम में शिफ्ट करने की रफ्तार भी थम गई। खरीद एजेंसी द्वारा दो दिन में मात्र 32,999 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई है। जबकि मंडी में अभी किसानों का करीब 5000 क्विंटल गेहूं खुले आसमान के नीचे पड़ा हुआ है ।

रामबीर सिंह, सतबीर सिंह, कृष्ण कुमार, हुकम सिंह, कालू राम, विनोद सिंह, सरजीत सिंह, अजीत सिंह आदि ने बताया कि सरकार की ऑनलाइन सरसों व गेंहूू की खरीद ने किसानों को दर- दर भटकने पर मजबूर कर दिया है। जिन किसानों का पंजीकरण नहीं हुआ वह अपने पंजीकरण के लिए सरकारी दफ्तरों में धक्के खा रहे हैं। उन्हें एक ही जवाब मिलता है कि या तो पंजीकरण बंद हो गया या फिर पोर्टल की गति धीमी है।

उन्होंने बताया कि 11 अप्रैल को फर्रुखनगर अनाज मंडी में गेहूं की सरकारी खरीद की गई थी। लेकिन दो दिन खरीद के बाद एजेंसी के अधिकारी व कर्मचारी मंडी में नजर नहीं आये। जिसके कारण मंडी में गेंहूू उतारने की जगह नहीं है। मंडी में गेहूं के गेट पास मैनुअल काटे जा रहे हैं। जिस कारण दिक्कत आ रही है।

खरीद में बारदाना और ट्रांसपोर्ट व्यवस्था बाधा नहीं बनेगी

फर्रुखनगर. अनाज मंडी में खुले आसमान के नीचे लगे गेंहू के ढेर।

खरीद एजेंसी हरियाणा वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन की प्रबंधक सुमन सिंह ने बताया कि दो दिनों में 32,999 क्विंटल गेहूं की खरीद का कार्य किया जा चुका है। करीब 10 हजार गेहूं के भरे कट्टों को गोदाम में लगवाया जा चुका है। अभी मंडी में सरसों की आवक ज्यादा होने के कारण भरे कट्टों का उठान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मंडी में गेहूं की खरीद का कार्य जल्द शुरू किया जायेगा। खरीद में बारदाना और ट्रांसपोर्ट व्यवस्था बाधा नहीं बनेगी। गेहूं को बरसात से बचाव के लिए सभी व्यापारियों को लकड़ी के रेक, तिरपाल आदि की व्यवस्था के लिए कहा जा चुका है।

X
Farrukh Nagar News - farmers are worried over the closure of wheat procurement for four days
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना