--Advertisement--

सलमान को धमकी देने वाले गैंगस्टर लॉरेंस का है राइट हैंड, फेसबुक पर करता है ऐसी पोस्ट्स

इस बदमाश पर 4 राज्यों में हत्या, लूट सहित फिरौती के दर्जनों मामले दर्ज हैं।

Danik Bhaskar | Jun 08, 2018, 04:02 PM IST
संपत नेहरा संपत नेहरा

गुड़गांव (हरियाणा). इसी साल जनवरी में सलमान खान को जान से मारने की धमकी देकर सुर्खियों में आई लॉरेंस गैंग के गैंगस्टर संपत नेहरा को गुड़गांव की एसटीएफ ने बुधवार शाम हैदराबाद से धर दबोचा। इस बदमाश पर 4 राज्यों में हत्या, लूट सहित फिरौती के दर्जनों मामले दर्ज हैं। संपत सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहता था। वह सुपारी लेने और उसे अंजाम देने के बाद फेसबुक पर उसका अपडेट डालता था। चंडीगढ़ के रिटायर्ड पुलिसकर्मी का बेटा है संपत...

- संपत, चंडीगढ़ पुलिस से रिटायर्ड असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर रामचंदर का बेटा है। जानकारी के मुताबिक, 28 साल का संपत नेशनल लेवल डीकैथलॉन (हर्डल रेस) सिल्वर मेडलिस्ट भी रह चुका है।

- उसने डीएवी कॉलेज से पढ़ाई की है। जहां वह SOPU (स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पंजाब यूनिवर्सिटी) का प्रेसिडेंट बना। संपत स्टूडेंट पॉलिटिक्स में भी काफी एक्टिव था।
- पढ़ाई के दौरान ही वह कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के संपर्क में आया और जुर्म के रास्ते पर चल पड़ा। संपत को गैंगस्टर लॉरेंस का राइट हैंड बताया जाता है। वह लॉरेंस गैंग का शार्प शूटर है।
- जनवरी, 2016 में संपत पहली बार बंदूक की नोक पर कार लूटने के एक मामले में गिरफ्तार हुआ था। इसके बाद जून, 2017 को वह साथी कैदी के साथ पुलिसकर्मी की आंखों में मिर्ची पाउडर झोंककर फरार हो गया था।

संपत की क्राइम हिस्ट्री
- संपत पर हरियाणा, पंजाब, दिल्ली और राजस्थान में कुल 25 मामले दर्ज हैं। 12 मर्डर के मामलों में संपत का नाम सामने आया और उस पर एफआईआर दर्ज है।
- 6 गैर-इरादतन हत्या के मामलों में उस पर एफआईआर दर्ज है। वहीं 2 व्यापारियों से फिरौती मांगने के मामलों में एफआईआर दर्ज है। इसमें चंडीगढ़ के एक मेडिकल स्टोर मालिक से 3 करोड़ रुपए की फिरौती शामिल है। इसके अलावा 5 डकैती के मामले भी दर्ज हैं।
- इस गैंगस्टर के सिर पर 2 लाख रुपए का ईनाम था। हरियाणा पुलिस ने 1 लाख, राजस्थान और पंजाब पुलिस ने 50-50 हजार रुपए का ईनाम रखा था।

जिम में संपत नेहरा जिम में संपत नेहरा
गैंगस्टर लॉरेंस के साथ संपत नेहरा गैंगस्टर लॉरेंस के साथ संपत नेहरा
संपत नेहरा संपत नेहरा