गुड़गांव

  • Home
  • Haryana News
  • Gurgaon
  • स्कूलों ने अगर आरटीई का उल्लंघन किया तो रद्द हो सकती है मान्यता
--Advertisement--

स्कूलों ने अगर आरटीई का उल्लंघन किया तो रद्द हो सकती है मान्यता

हरियाणा के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर रामबिलास शर्मा ने सभी निजी स्कूलों को शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 की धारा 29 को...

Danik Bhaskar

Jun 06, 2018, 02:00 AM IST
हरियाणा के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर रामबिलास शर्मा ने सभी निजी स्कूलों को शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 की धारा 29 को गंभीरता से लागू करने की हिदायत दी है। जीडी गोयनका विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) द्वारा शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 की धारा 29 की पालना को लेकर आयोजित कार्यशाला में मंत्री ने कहा इन नियमों का उल्लंघन करने वाले स्कूलों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी और ऐसे मामलों में विद्यालय की मान्यता तक रद्द की जा सकती है। कार्यशाला में राज्य भर से आए जिला शिक्षा अधिकारियों तथा 250 निजी विद्यालयों के प्रमुखों ने भाग लिया।

गुड़गांव. कार्यशाला को संबोधित करते शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा।

धारा-29 में दिए मानदंड सभी स्कूलों के लिए जरूरी

शिक्षा मंत्री ने बताया कि धारा-29 में दिए गए मानदंडों के अनुसार सभी स्कूलों के लिए अनिवार्य है कि वे एकेडमिक अथॉरिटी द्वारा तैयार पाठ्यक्रम के अनुसार विद्यार्थियों को पढ़ाएं। यह जरूरी है कि सभी नियम के तहत दिए गए प्रावधानों को ठीक प्रकार से समझ लें। इस मौके पर एनसीपीसीआर से प्रियंक, रजनीकांत, एनसीईआरटी से प्रो. नलिनी जुनेजा व अनीता, एडीसी आरके सिंह, गुड़गांव की डीईओ प्रेमलता यादव, जिला परियोजना संयोजक मुकेश यादव मौजूद रहे।

Click to listen..