• Home
  • Haryana News
  • Gurgaon
  • हाउसिंग प्रोजेक्ट का पंजीकरण नहीं कराने पर ब्लैकबेरी कंपनी पर Rs.10 लाख जुर्माना
--Advertisement--

हाउसिंग प्रोजेक्ट का पंजीकरण नहीं कराने पर ब्लैकबेरी कंपनी पर Rs.10 लाख जुर्माना

हरियाणा रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (हरेरा) ने ब्लैकबेरी रियल लोन प्राइवेट लिमिटेड पर 10 लाख रुपए का जुर्माना...

Danik Bhaskar | Apr 27, 2018, 02:05 AM IST
हरियाणा रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (हरेरा) ने ब्लैकबेरी रियल लोन प्राइवेट लिमिटेड पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। हरेरा ने कंपनी पर यह जुर्माना पंजीकरण नहीं कराने पर लगाया है। कंपनी पर हरेरा अधिनियम, 2016 की धारा 3 (1) के उल्लंघन का आरोप है। एक्ट के लागू होने के तीन महीने के भीतर प्रोजेक्ट का पंजीकरण कराना अनिवार्य है। मगर, कंपनी ने पंजीकरण के लिए आवेदन तक नहीं किया। जांच में हरेरा चेयरमैन केके खंडेलवाल की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय टीम ने पाया कि कंपनी ने हरेरा एक्ट का उल्लंघन किया है। ब्लैकबेरी रियल लोन प्राइवेट लिमिटेड ने साल 2017 में गुड़गांव में पारस स्क्वायर नामक से नई परियोजना लांच की थी। कार्यवाही के दौरान, प्राधिकरण ने पाया कि कंपनी ने 31 जुलाई 2017 से पहले पंजीकरण के लिए आवेदन नहीं कर हरेरा अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन किया। इस पर प्राधिकरण ने कंपनी पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया।

हरेरा चेयरमैन ने जांच में पाया दोषी, की कार्रवाई

गुड़गांव. हरेरा कार्यालय में सुनवाई करते चेयरमैन केके खंडेलवाल।