Hindi News »Haryana »Gurgaon» स्कूल स्तर पर अभियान चलाकर हरियाणा में 20 लाख पौधे लगाने का है हमारा लक्ष्य: मनोहर लाल

स्कूल स्तर पर अभियान चलाकर हरियाणा में 20 लाख पौधे लगाने का है हमारा लक्ष्य: मनोहर लाल

आईआईटी दिल्ली के पूर्व छात्रों की एसोसिएशन द्वारा गोद लिए गांव पहाड़ी में रविवार को आयोजित कार्यक्रम में सीएम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 02, 2018, 02:10 AM IST

स्कूल स्तर पर अभियान चलाकर हरियाणा में 20 लाख पौधे लगाने का है हमारा लक्ष्य: मनोहर लाल
आईआईटी दिल्ली के पूर्व छात्रों की एसोसिएशन द्वारा गोद लिए गांव पहाड़ी में रविवार को आयोजित कार्यक्रम में सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में पौधरोपण का बड़ा अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत स्कूलों में 6वीं से 12वीं कक्षा तक पढ़ने वाले विद्यार्थी एक-एक पौधा लगाएंगे। ये पौधे वन विभाग द्वारा उपलब्ध कराए जाएंगे और विद्यार्थियों उनके नाम भी अपनी मर्जी से रख सकेंगे। अभियान के तहत राज्य में 20 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

आईआईटी दिल्ली के पूर्व छात्रों की एसोसिएशन द्वारा उन्नत भारत अभियान के तहत गांव पहाड़ी को गोद लिया गया है जिसमें वे स्वच्छता, पौधरोपण इत्यादि गतिविधियां करेंगे। इस अवसर पर सीएम ने पौधरोपण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में चलाए जाने वाले पौधरोपण अभियान के तहत विद्यार्थी पौधे की रोपण तिथि लिखेंगे और तीन साल तक उसकी सुरक्षा करते हुए पालन-पोषण करेंगे। वे अध्यापक को पौधे की लंबाई तथा उसके तने की मोटाई हर छह महीने में बताएंगे। इसके लिए हर विद्यार्थी को छह महीने में 50 रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यदि किसी विद्यार्थी का पौधा मर जाता है तो वह अगले साल फिर से पौधा लगाकर इस प्रतिस्पर्धा में भाग ले सकता है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि बारिश के मौसम में हर परिवार अपने घर, आंगन, गली, स्कूल, तालाब के किनारे, मंदिर, अस्पताल, श्मशान घाट तथा अन्य कोई भी खाली जगह हो, वहां पौधरोपण अवश्य करे और उसका बच्चे की तरह पालन-पोषण करें। यह बहुत बड़ा परोपकार का काम होगा।

सीएम ने गांव पहाड़ी को गोद लेने पर आईआईटी दिल्ली एल्युमिनाई एसोसिएशन का आभार व्यक्त किया और कहा कि इसका श्रेय गांव के ही एसोसिएशन सदस्य विनोद यादव को जाता है। उन्होंने कार्यक्रम में विनोद यादव को एसोसिएशन की ओर से नोडल अधिकारी नियुक्त करने का नियुक्ति पत्र भी दिया। सीएम ने आईआईटी दिल्ली एल्युमिनाई एसोसिएशन से अपील की है कि उनके द्वारा उन्नत भारत अभियान के तहत देश में गोद लिए जाने वाले 150 गांवों में से ज्यादा से ज्यादा गांव प्रदेश के गोद लें। आईआईटी दिल्ली विख्यात तकनीकी संस्थान हैं, जिसकी स्थापना 1963 में हुई थी और आज इसके टेक्नोक्रेट देश व दुनिया में काम कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि देशभर में लगभग 150 गांवों को गोद लेकर सुनियोजित ढंग से विकसित करने का इनका फैसला सराहनीय है तथा इनसे अन्य संस्थाओं को भी प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश में विधायकों व सांसदों द्वारा गांवों को गोद लेकर उनका समुचित विकास तो करवाया ही जा रहा है। साथ ही कुछ और कंपनियों और साधन संपन्न लोगों ने भी प्रदेश के गांवों को स्व: प्रेरित आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों देश के 4500 शहरों को स्वच्छता सर्वेक्षण हुआ था जिसमें हरियाणा प्रदेश के 18 शहर पहले 300 स्थानों में आए हैं। हर महीने प्रत्येक ब्लाक में एक गांव को स्वच्छता के लिए नकद इनाम दिया जाता है और इस प्रकार राज्य सरकार हर महीने एक करोड़ 35 लाख रुपए की राशि ईनाम के तौर पर वितरित कर रही है ताकि गांवों में स्वच्छता बनाए रखने की आदत बनें।

गुड़गांव. आईआईटी दिल्ली के पूर्व छात्र एसोसिएशन के नोडल अधिकारी को नियुक्ति-पत्र प्रदान करते मुख्यमंत्री मनोहर लाल, साथ में विधायक विमला चौधरी, अन्य गणमान्य लोग।

मेरी पार्टी में कोई भ्रष्ट

शामिल नहीं होगा: सीएम

भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए पिछले साढ़े तीन साल में उठाए गए कदमों का उल्लेख करते हुए सीएम ने कहा कि वो पार्टी के नेताओं की गांरटी लेते हैं कि कोई भ्रष्टाचार में शामिल नहीं होगा, यदि कोई पाया गया तो उसकी छुट्टी कर दी जाएगी। इसी प्रकार, यदि कोई अधिकारी भ्रष्टाचार में संलिप्त पाया जाता है तो उसकी भी छुट्टी कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि हालांकि भ्रष्टाचार पर काफी हद तक रोक लगी है, लेकिन कहीं-कहीं कर्मचारियों की शिकायतें मिलती हैं और इस पर कार्रवाई करते हुए कुछ कर्मचारियों को निलंबित भी किया जाता है। उन्होंने भ्रष्टाचार पर प्रभावी ढंग से रोक लिए जनता से भी सहयोग की अपील की।

पहले पर्चियां चलती थीं, अब

योग्य को मिलती है नौकरी

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि अब नौकरियां योग्यता के आधार पर दी जा रही हैं जबकि पहले पर्चियां चलती थी। उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री दस साल के लिए जेल में बंद हैं और उनके उत्तराधिकारी कहते हैं कि मेरिट को हम नहीं जानते, मेरिट को हम फाड़कर फेंक देते हैं। इस मौके पर पटौदी विधायक बिमला चौधरी, आईआईटी दिल्ली के उपनिदेशक प्रो. बालाकृष्णन, प्रो. सांघी, उन्नत भारत कार्यक्रम के चीफ कोऑर्डिनेटर आईआईटी के प्रो. विजय कुमार, सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता डॉ. सतबीर सिंह कादियान, डीसी विनय प्रताप सिंह, पुलिस आयुक्त केके राव, अतिरिक्त उपायुक्त आर के सिंह मौजूद रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gurgaon

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×