• Home
  • Haryana News
  • Gurgaon
  • गुड़गांव के 17 और रेवाड़ी के 3 स्कूलों में टैबलैब शुरू हुई
--Advertisement--

गुड़गांव के 17 और रेवाड़ी के 3 स्कूलों में टैबलैब शुरू हुई

डीसी विनय प्रताप सिंह ने सोमवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खेड़कीदौला में सक्षम हरियाणा शिक्षा पहल के...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 02:10 AM IST
डीसी विनय प्रताप सिंह ने सोमवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खेड़कीदौला में सक्षम हरियाणा शिक्षा पहल के अंतर्गत हीरो एजुटेक पायलेट प्रोजेक्ट तथा स्मार्ट क्लासेज की शुरुआत की। प्रोजेक्ट के तहत स्कूल में लैब बनाकर स्टूडेंट्स के लिए 30 टैबलेट लगाए गए हैं, जिनमें कक्षा पहली से आठवीं तक के स्टूडेंट्स के लिए पाठ्यक्रम फीड किया गया है। डीसी ने टैब लैब का उद्घाटन करने के बाद वहां उपस्थित हीरो मोटो कॉर्प के पदाधिकारियों से प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी ली। कंपनी के सीएसआर डायरेक्टर विजय सेठी ने डीसी को बताया कि टैबलेट में कक्षा पहली से आठवीं के स्टूडेंट्स के लिए सिलेबस फीड किया गया है। इसे रुचिकर बनाने के लिए विशेष प्रयास किए गए हैं, ताकि बच्चे रुचि लेकर पढ़ाई करें। टैब लैब में कक्षा पहली से आठवीं तक के स्टूडेंट्स को एक यूनिक आईडी व पासवर्ड मिलेगा, जिसमें प्रत्येक कक्षा का पाठ्यक्रम फीड होगा। उन्होंने टैबलेट में फीड कक्षाओं के पाठ्यक्रम को भी डीसी को दिखाया। उन्होंने बताया कि शुरुआती चरण में प्रोजेक्ट में गुड़गांव व रेवाड़ी के 20 स्कूलों को शामिल किया है, जिसमें 17 गुड़गांव तथा 3 स्कूल रेवाड़ी के हैं। प्रोजेक्ट के तहत जिन स्कूलों में इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत थी वहां इस दिशा में आवश्यक कदम उठाए गए हैं। रमन मुंजाल फाउंडेशन के सीओओ रवि पाहुजा ने डीसी को बताया कि सक्षम हरियाणा के तहत शुरू किए गया यह प्रोजेक्ट दो तथ्यों पर आधारित होगा, जिनमें से एक कॉन्सेप्ट स्मार्ट क्लासेज का है व दूसरा टैब लेब का। टैब लैब में कक्षा पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों को एक यूनिक आईडी व पासवर्ड मिलेगा, जिसमें प्रत्येक कक्षा का पाठ्यक्रम फीड होगा। इसी प्रकार, स्मार्ट क्लासेज कक्षा 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए होंगी। इनकी विशेषता होगी कि इनमें प्रोजेक्टर व कंप्यूटर के जरिए बच्चों को पढ़ाया जाएगा।

डीसी विनय प्रताप सिंह ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खेड़कीदौला में सक्षम हरियाणा शिक्षा पहल के अंतर्गत प्रोजेक्ट की शुरुआत की

गुड़गांव. खेड़कीदौला स्कूल में बनाई गई टैबलैब में पढ़ती छात्राएं।

अन्य जिलों में भी शुरू होगी

डीसी ने बताया कि जिन स्कूलों में इस पायलेट प्रोजेक्ट को शुरू किया गया है, उन स्कूलों के प्रिंसिपल से फीडबैक लेने के बाद इसे प्रदेश के अन्य जिलों में भी लागू किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट में 6 अन्य संस्थाओं द्वारा भी सहयोग दिया गया है, जिनमें कान्वेजिनियस, कराड़ी पथ, किंग्स लर्निंग, अवंती, आईडीसी शामिल हैं।

राजकीय विद्यालय वजीराबाद, राजकीय विद्यालय इस्लामपुर, राजकीय विद्यालय चकरपुर, राजकीय विद्यालय भीमगढ़खेड़ी, राजकीय विद्यालय सेक्टर-9 गुड़गांव, राजकीय कन्या उच्च विद्यालय 4/8 मरला, राजकीय उच्च विद्यालय कन्हई, राजकीय कन्या व. मा. विद्यालय बादशाहपुर, राजकीय. विद्यालय बादशाहपुर तथा राजकीय कन्या वरिष्ठ मा. विद्यालय सोहना

इन स्कूलों में लगेंगी स्मार्ट क्लास

इन स्कूलों में बनेगी टैबलैब

राजकीय विद्यालय, जमालपुर, राजकीय विद्यालय मांकड़ौला, राजकीय कन्या विद्यालय समसपुर, राजकीय विद्यालय खेड़कीदौला, राजकीय विद्याल सिकंदरपुर बाढ़हा, राजकीय विद्यालय बाढ़हा, राजकीय विद्यालय पथरेड़ी, राजकीय विद्यालय अकेरा, राजकीय विद्यालय कापड़ीवास, राजकीय विद्यालय गुर्जर घटाल