--Advertisement--

पार्षद को ब्लैकमेल करने के आरोप में गौरव गर्ग पर मामला दर्ज, जांच शुरू

कैंट पुलिस ने दयालबाग निवासी गौरव गर्ग के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी है।

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 08:16 AM IST
case file against gaurav garg

अम्बाला | कैंटोनमेंट बोर्ड के भाजपा पार्षद सुरेंद्र तिवारी को ब्लैकमेल करने और धमकियां देने के मामले में कैंट पुलिस ने दयालबाग निवासी गौरव गर्ग के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरु कर दी है। सबूत के तौर पर पार्षद ने वाट्सएप मैसेज पुलिस को सौंपे हैं। गौरतलब है कि गौरव गर्ग पर इससे पहले भी कुछ मामले दर्ज हैं। कैंट थाने में दी शिकायत में सुरेंद्र तिवारी ने बताया कि कंस्ट्रक्शन का काम करता है और कैंट रेस्ट हाउस में उनका काम चल रहा है। कुछ दिन पहले गौरव गर्ग ने घर में टाइल लगाने के नाम पर 20 हजार रुपए मांगे। इसके कुछ दिनों बाद उसने फिर 10 हजार रुपए मांगे जो उन्होंने देने से इंकार कर दिया। तिवारी ने आरोप लगाया कि जब उन्होंने गौरव गर्ग को पैसे देने से इंकार कर दिया तो उसने धमकी दी कि वह उसका काम रुकवा देगा। इस पर उन्होंने गौरव को 10 हजार रुपए व 6 सीमेंट बैग व बजरी दे दी। वह एक बार फिर 10 नवंबर को उसके पास आया और 1 लाख रुपए की मांग की। इसके बाद तिवारी ने इसकी जानकारी स्थानीय मंत्री अनिल विज को दी व पूरी बात की जानकारी बताई। मंत्री ने रेस्ट हाउस में गौरव गर्ग को समझाने का प्रयास किया। लेकिन मंत्री के जाते ही वह एक बार फिर अपनी पुरानी कार्यशैली पर उतार हो गया और रेस्ट हाउस बुलाकर धमकियां देने लग गया। शिकायत मिलते ही पुलिस ने भी गौरव गर्ग के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

निर्मल सिंह अपने गिरेबां में झांकें: तिवारी
कैंट बोर्ड पार्षद सुरेंद्र तिवारी ने पूर्व मंत्री निर्मल सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि नेक व ईमानदार नेता पर अंगुली उठाने से पहले वे अपने गिरेबां में झांक लें। तिवारी गुरुवार को अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि निर्मल सिंह पर कई केस दर्ज हैं और उनका भ्रष्ट पत्रकार का पक्ष लेना उचित नहीं। निर्मल सिंह मंत्री रहते हुए भी अम्बाला के विकास के लिए कुछ नहीं कर सके, जबकि स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कैंट में विकास कार्यों की झड़ी लगाई हुई है। स्वास्थ्य मंत्री की स्वच्छ छवि की प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के वरिष्ठ नेता भी कसमें खाते हैं।

X
case file against gaurav garg
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..