Hindi News »Haryana »Rohtak» Cm Jkhattar Reached Maryred Monu House

शहीद के पिता बोले-पाकिस्तान का मात्र 4 घंटे का खेल, लेकिन वोट की है राजनीति

आतंकी हमले में शहीद हुए सैनिक मोनू को श्रद्धांजलि देने सीएम मनोहर लाल गुरुवार सुबह गांव बसाना पहुंचे।

Bhaskar news | Last Modified - Feb 09, 2018, 08:00 AM IST

शहीद के पिता बोले-पाकिस्तान का मात्र 4 घंटे का खेल, लेकिन वोट की है राजनीति

कलानौर.कुपवाड़ा में आतंकी हमले में शहीद हुए सैनिक मोनू को श्रद्धांजलि देने सीएम मनोहर लाल गुरुवार सुबह गांव बसाना पहुंचे। यहां पर सीएम मनोहर लाल के सामने शहीद के पिता सुरजन सिंह का गुस्सा फूट पड़ा।

पिता ने कहा कि सरकार अपने वोट बैंक को बचाने के लिए राजनीति कर रही है। यदि देश के सैनिकों को मौका दिया जाए तो पाकिस्तान का महज चार घंटे का खेल है। यदि सेना को कार्रवाई के लिए नहीं कहती है तो पूर्व सैनिकों को मौका दिया जाए। पाकिस्तान का खेल खत्म कर देंगे। इसी दौरान पिता सुरजन सिंह ने कहा कि नौजवान देश के लिए मर-मिटने को तैयार है। हर परिवार में ऐसे नौजवान सैनिक आतंक के खिलाफ लड़ने को तैयार है। वहीं शहीद के भाई सोनू का कहना है कि शहीद परिवार को जब सरकार के नुमाइंदों की जरूरत होती है तो सरकार आती नहीं है, जबकि हम बॉर्डर पर लड़ते रहते हैं। जाट बटालियन, सिख, गोरखा रेजिमेंट और राजपूताना राइफल मुख्य जगह पर तैनात हैं और युद्ध के लिए भी तैयार है। सेना को छूट दी जाती है तो आर-पार की लड़ाई के लिए हम तैयार हैं। इसके बाद शहीद मोनू के परिजनों ने सीएम से मुलाकात के दौरान मांग की कि उन्हें सीएनजी पंप स्टेशन दिया जाए, ताकि परिवार का गुजारा चल सके।


सीएम मनोहर लाल ने कहा कि शहीद मोनू के परिवार को प्रदेश सरकार की नीति अनुसार हर संभव सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। शहीद मोनू को सदैव याद रखा जाएगा। शहीद की विरांगना रेणु से सीएम ने पूछा कि वह कितनी पढ़ी-लिखी है। साथ ही कहा कि जो भी सरकारी नियमों के तहत राशि मिलनी है वह तुरंत आज ही आरटीजीएस शहीद परिवार के खाते में दी जाएगी, जो भी सरकार से बनेगा उसके लिए तैयार रहेंगे।

सीएम बोले- हम 2 के बदले 20 मारते हैं :सीएम ने यह भी कहा कि भारतीय सेना पाकिस्तान को जवाब देने में पूरी तरह से सक्षम है। बार्डर पर अगर भारत के दो जवान शहीद होते हैं तो बदले में पाकिस्तान के 20 सैनिकों को हमारी सेना मारती है। भारतीय सेना ने पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक की थी। मोनू 26 जनवरी को कुपवाड़ा में सेना कैम्प पर हुए हमले के दौरान घायल हुए थे और 4 फरवरी को दिल्ली के आर्मी अस्पताल में उनकी मौत हो गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rohtak News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Shahid ke pitaa bole-paakistaan ka maatr 4 Ghante ka khel, lekin vot ki hai raajniti
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Rohtak

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×