--Advertisement--

कार में पड़ी मिली ठेकेदार के बेटे की लाश, पिता ने बताई मौत की ऐसी वजह

बेगू के एक युवक का शव गाड़ी में पड़ा हुआ मिला। स्मैक के अधिक नशे के कारण युवक अपनी जिंदगी गंवा बैठा।

Danik Bhaskar | Jan 29, 2018, 04:50 AM IST

सिरसा. जिले में स्मैक, हेरोइन और अफीम का नशा युवाओं को लगातार जकड़ता जा रहा है। नशे के आदी हो चुके युवाओं की जिंदगी भी इस कारण लील हो रही है। ऐसा ही कुछ घटित हुआ शनिवार शाम को जब गांव शाहपूर बेगू के एक युवक का शव गाड़ी में पड़ा हुआ मिला। स्मैक के अधिक नशे के कारण युवक अपनी जिंदगी गंवा बैठा।


पुलिस ने उसका शव शहर के इंडस्ट्रियल एरिया में उसकी गाड़ी से बरामद किया। पिता के बयान पर पुलिस ने इत्तफाकिया कार्रवाई करते हुए शव का पोस्टमार्टम करवाया। पिता ने भी अपने बयान में पुलिस को बताया कि उसका बेटा नशे का आदि हो चुका था। इसी नशे ने उसके बेटे की जान ले ली। इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है। शनिवार शाम को पुलिस के पास सूचना आई कि शहर के इंडस्ट्रियल एरिया में एक ऑल्टो गाड़ी खड़ी है। उसमें एक युवक की लाश पड़ी है। पुलिस ने युवक से मिले कागजात के आधार पर पहचान होने पर उसके परिजनों को सूचित किया। युवक की पहचान गांव शाहपुर बेगू निवासी सुशील पुत्र मंगतराम के रूप में हुई है। पिता ने बताया कि वह बिल्डिंग ठेकेदार है। उसका बेटा भी उसके साथ ठेकेदारी करता था। वह स्मैक जैसा खतरनाक नशा करने लगा था। शनिवार शाम को वह घर से बिना बताए गाड़ी लेकर गया था। रात्रि तक जब वापस नहीं लौटा तो उन्होंने कई जगह उसकी तलाश भी की, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। सुबह पुलिस की ओर से उन्हें सूचना मिली की सुशील की लाश गाड़ी में शहर के इंडस्ट्रियल एरिया में पड़ी । इसके बाद वे मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। पुलिस के मुताबिक उसने गाड़ी में ही स्मैक का नशा किया हुआ था। जिसके सबूत गाड़ी में थे। संभवत: मात्रा अधिक होने के कारण ही उसकी मौत हुई है। यहां बता दें कि मृतक सुशील की एक साल पहले ही शादी हुई थी। नशे ने उसकी जिंदगी लीन ली। जेजे कॉलोनी चौकी के जांच अधिकारी हवलदार सुमित कुमार ने बताया कि नशे की वजह से ही मौत हुई है। परिजनों ने ही यह बात मानी है कि उनका लड़का नशा करता था।