--Advertisement--

कलियाणा रोड पर पत्रकार राजेश का शव मिला, परिजनों को हत्या की आशंका

गांव उमरवास निवासी पत्रकार राजेश श्योराण का शव बुधवार देर रात कलियाणा मोड़ के समीप पुलिस को मिला।

Danik Bhaskar | Dec 22, 2017, 07:23 AM IST

चरखीदादरी। गांव उमरवास निवासी पत्रकार राजेश श्योराण का शव बुधवार देर रात कलियाणा मोड़ के समीप पुलिस को मिला। मृतक के चाचा अजीत ने हत्या की आशंका जताई है। पुलिस ने मृतक के चाचा के बयान पर केस दर्ज किया है। एसपी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच की जिम्मेवारी एक एसआईटी टीम को सौंपी है। सिटी थाना पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम चिकित्सकों के पैनल से करवाकर परिजनों को सौंप दिया।


बुधवार देर रात पुलिस को सूचना मिली की कलियाणा मोड़ के समीप एक व्यक्ति का शव पड़ा है। सूचना मिलते ही सिटी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। इस दौरान मृतक के कपड़ों की तलाशी लेने पर उसकी जेब से एक आईडी कार्ड बरामद हुआ और जिसके जरिए उसकी पहचान उमरवास निवासी पत्रकार राजेश श्योराण के रूप में हुई। पुलिस ने मामले की सूचना उमरवास सरपंच को दी। सरपंच की सूचना पाकर मृतक के परिजन अस्पताल पहुंचे। पुलिस को दिए बयान में मृतक के चाचा अजीत सिंह ने बताया कि राजेश दो दिन पहले घर से आया था और बुधवार रात करीब साढ़े 8 बजे उसने अपनी पत्नी से फोन पर बात की थी। इस दौरान राजेश ने दादरी आने कुछ देर बाद घर पहुंचने की बात पत्नी को बताई थी। उन्होंने बताया कि इसके बाद जब परिजनों ने राजेश से बात करनी चाही तो उसका फोन स्विच आॅफ मिला।
टीम मामले की जांच करेगी
मामलेकी जांच के लिए पुलिस अधीक्षक ने डीएसपी हेड क्वार्टर प्रदीप कुमार की अगुवाई में एक एसआईटी का गठन किया है। इस टीम में सिटी पुलिस स्टेशन के प्रभारी विकास ओहलान तथा सीआईए बाढड़ा के प्रभारी शमशेर सिंह को शामिल किया है। यह टीम रोजाना मामले की जांच करेगी तथा हर रोज शाम को पुलिस अधीक्षक को अपनी रिपोर्ट देगी।

उधर मामले की सूचना मिलते ही विभिन्न राजनीतिक सामाजिक संगठनों से जुड़े पदाधिकारी गुरुवार सुबह सिविल अस्पताल पहुंचे। इस मामले में मृतक के परिजनों ने हत्या की आशंका जाहिर की। मृतक के चाचा अजीत के बयान पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए शव का पोस्टमार्टम चिकित्सकों के पैनल से कराया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया।

^मृतक पत्रकार के चाचा अजीत के बयान पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ के हत्या का केस दर्ज किया है। मामले की जांच के लिए मैंने एक एसआईटी भी गठित कर दी है। जल्द ही मामले की गुत्थी को सुलझा लिया जाएगा।'' हिमांशुगर्ग, पुलिस अधीक्षक