--Advertisement--

ननिहाल से अगवाकर नाबालिग से मारपीट कर किया था गैंगरेप, मिली ये सजा

अर्थदंड जमा करने की स्थिति दोनों छह माह अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

Danik Bhaskar | Jan 10, 2018, 07:35 AM IST

हिसार. रोहतक से एक साल पहले अपनी ननिहाल में हिसार आई नाबालिग को अगवा कर रातभर गैंगरेप के मामले मंगलवार को अतिरिक्त सेशन जज डॉ. पंकज की अदालत में दो आरोपियों को कठोर आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। अदालत अारोपियों पर अलग-अलग आपराधिक धाराओं में 4 लाख 14 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। अर्थदंड जमा करने की स्थिति दोनों छह माह अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

रोहतक के एक गांव वासी नाबालिग अपनी मां और पिता के साथ 23 जनवरी 2017 को महिला थाने पहुंची। नाबालिग को पुलिस को बताया कि वह 10 जनवरी 2017 को अपने मामा के घर से आयी थी। यहां 22 जनवरी 2017 की शाम 6 से 6:30 के बीच शौच के लिए गई। रास्ते में उसके गांव के दो युवक बाइक लेकर मिले थे। दोनों युवकों में एक ढिल्ला एवं दूसरा श्री निवास उर्फ काला थे। दोनों उसका गांव में पीछा भी करते थे। दोनों जबरन उसे बाइक पर बैठकर गांव ले गए। जहां उसे कमरे में बंद कर दिया और रात भर बारी बारी से उसके साथ रेप किया। विरोध के दौरान उसका सिर कमरे में पड़ी ईंट से टकरा गया जिससे उसके चोटें आयीं। इसके बाद दोनों उसे पूलियों में बंद करके भाग गए। खोजबीन के दौरान पहुंचे उसके पिता उसे इलाज के लिए अस्पताल ले गए। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर तफ्तीश की। इसके बाद दोनों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की।
अदालत में दोनों पर गैंगरेप का मुकदमा चला। मुकदमे की सुनवाई अतिरिक्त सेशन जज डॉ. पंकज की अदालत में हुई। दोनों आरोपियों को दोषी ठहराया गया। अदालत ने सजा के बिंदु पर मंगलवार को सुनवाई की। अदालत ने दोनों आरोपियों को रास्ता रोकने की धारा 341 में एक माह, बंधक बनाने की धारा 342 में 6 माह, अपहरण करने की धारा 363 और 366 में 5-5 साल 2500-2500 रुपए, गैंगरेप की धारा 376डी- में 20 साल और 1 लाख, जान से मारने की धमकी की धारा 506 में 2 साल और 2000 तथा 6 पोक्सो एक्ट में उम्रकैद और 1 लाख जुर्माने की सजा सुनाई है।