Hindi News »Haryana »Hisar» पंजाब ने इंसानों के लिए खतरा बताकर 20 कीटनाशकों की बिक्री रोकी, प्रदेश में इनमें से कई पर पहले ही लग

पंजाब ने इंसानों के लिए खतरा बताकर 20 कीटनाशकों की बिक्री रोकी, प्रदेश में इनमें से कई पर पहले ही लग चुका बैन

पंजाब के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट ने 20 तरह के कीटनाशकों को मानव जीवन के लिए खतरनाक मानते हुए इनकी बिक्री पर तत्काल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:20 AM IST

पंजाब के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट ने 20 तरह के कीटनाशकों को मानव जीवन के लिए खतरनाक मानते हुए इनकी बिक्री पर तत्काल रोक लगा दी है। इनमें से कई कीटनाशकों पर हरियाणा सरकार पहले ही रोक लगा चुकी है। कीटनाशक फसलों को नुकसान न पहुंचा सकें, इसके लिए हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय ने नए मालिक्युलर पर रिसर्च भी शुरू कर दी है। जल्द ही किसानों को नए ऐसे कीटनाशक मिलेंगे, जिनका लोगों पर अधिक असर नहीं पड़ेगा।

दरअसल, जिन कीटनाशकों पर बैन लगाया गया है, उसकी मुख्य वजह है कि मार्केट में पहुंच रहे खाद्य पदार्थ लोगों को प्रभावित कर रहे हैं। इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने से शरीर पर दुष्प्रभाव पड़ता है। किसान कीटनाशक का सही डोज और सही समय पर प्रयोग नहीं करता जोकि हानिकारक होता है। कई बार हमारे यहां से विदेश में खाद्यान्न एक्सपोर्ट किया जाता है, तब इसके रिजेक्ट होने के पीछे कई बार कीटनाशक भी सामने आया है।

पंजाब सरकार ने दिए निर्देश : पंजाब के कृषि एवं किसान विभाग के निदेशक ने कुल 20 कीटनाशकों को ह्यूमन बीइंग और एन्वायर्नमेंट के लिए खतरनाक मानते हुए इनकी बिक्री रोक दी है। इसके लिए विभाग कोई फ्रैश लाइसेंस इश्यू नहीं करेगा। सरकार ने यह निर्देश पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी एवं पंजाब स्टेट फार्मर्स कमीशन को दिए हैं।

पंजाब ने इन कीटनाशकों की बिक्री रोकी

- फॉस्फामिडन

- ट्रिक्लोरोफोन

- बेनफ्राकर्ब

- डिकॉफॉल

- मेथामाइल

-थिओफिनेट मिथिल

- एंडोसुल्फान

- बिफेन्थ्रिन

- कार्बोसुल्फान

- क्लोरफेनापेयर

- डेजोमेट

- डिफ्लूबेनजुरों

- फेनीट्रोथिऑन

- मेटलडिहाईड

- कसुजेमिसिन

- इथोफेनप्रोक्स

- फोरेट

- ट्रिआजोफोस

- एल्कलर

- मोनोक्रोटोफोस

----------

हरियाणा में इन कीटनाशकों की बिक्री पर रोक

नए मालिक्युलर पर रिसर्च की शुरू

पंजाब से पहले हमने इन कीटनाशकों की बिक्री पर रोक लगा दी है। वहीं नए मालिक्युलर पर रिसर्च भी शुरू कर दी गई है, ताकि कीटनाशकों का प्रभाव मानव पर नहीं पड़ सकें। सही मात्रा व सही समय इनका प्रयोग नहीं किया तो यह प्रभाव डालते हैं।' -प्रो. समंदर सिंह, हेड, एग्रोनॉमी डिपार्टमेंट, एचएयू

किसानों को भी सलाह दी जा रही है

पंजाब से पहले हरियाणा सरकार ने नोटिस के जरिए पहले ही इनमें से कई कीटनाशकों पर बैन लगा दिया है। इसके तहत हम किसानों को भी इनका प्रयोग न करने की सलाह दे रहे हैं।'-डॉ. विनोद कुमार फौगाट, डिप्टी डायरेक्टर, एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×