Hindi News »Haryana »Hisar» नहरी पानी के लिए 5 को किसान उतरेंगे सड़क पर, ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से पहुंचेंगे लघुसचिवालय

नहरी पानी के लिए 5 को किसान उतरेंगे सड़क पर, ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से पहुंचेंगे लघुसचिवालय

नहरी पानी के लिए किसान अब आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। 5 फरवरी को होने वाले जल सम्मेलन के लिए हिसार जोन के किसानों ने कमर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:20 AM IST

नहरी पानी के लिए किसान अब आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे। 5 फरवरी को होने वाले जल सम्मेलन के लिए हिसार जोन के किसानों ने कमर कस ली है। हजारों किसान ट्रैक्टरों पर सवार होकर सचिवालय स्थित मैदान में उमड़ेंगे और अपनी एकता का दमखम दिखाएंगे।

इनमें महिला और पुरुष किसानों की संख्या बराबर की होगी। इस लड़ाई में हिसार के अलावा अन्य जिलों के किसान भी उनका साथ देंगे। इनमें भिवानी, फतेहाबाद, सिरसा और हिसार जिले के ग्रामीण शामिल होंगे। किसान 5 फरवरी को अनाज मंडी में एकत्रित होंगे। वहां जनसभा के बाद वाहनों में सवार होकर सभी सचिवालय पहुंचेंगे। इस रैली में सरकार के खिलाफ भाषणबाजी की जाएगी। किसानों ने साफ चेतावनी दे रखी है कि यदि सरकार ने उनकी सुनवाई की तो प्रदेशव्यापी आंदोलन छेड़ दिया जाएगा। किसानों का आरोप है कि पिछले 20 सालों से आदमपुर व नलवा के गांवाें में पानी टेल तक नहीं पहुंच पा रहा है। इससे खेती के लिए तो पानी पीने के लिए पूरा नहीं पड़ रहा है। इस मौके पर समिति के महासचिव सत्यवीर पूनिया, कुलवंत नंबरदार, राजेंद्र ढाका, बनवारी नंबरदार, सुदर्शन, कर्मसिंह, सूबे नंबरदार, हवासिंह झाझडिय़ा, उमेद सिंह किरतान, अनूप सिंह, सूबेसिंह बांडाहेड़ी, महाबीर दूत, दलीप सहारण, राजकुमार लौरा, महाबीर खिचड़, बलजीत भिवानी रोहिल्ला, रतन पचार, सेवाराम धीरणवास, बलवान जांगड़ा, रामपत श्योराण, सुंदर सिंह फौजी व विरेंद्र पूनिया सहित भारी संख्या में किसान मौजूद थे।

सप्ताह में दो बार पानी के लिए कर रहे आंदोलन, धरना 17वें दिन में प्रवेश

जल संघर्ष समिति के धरने पर किसानों को संबोधित करते हुए कामरेड कृष्ण स्वरूप गोरखपुरिया।

सप्ताह में दो बार पानी की मांग को लेकर संयुक्त जल संघर्ष समिति का लघुसचिवालय के सामने अनिश्चितकालीन धरना बुधवार को 17वें दिन में प्रवेश कर गया। बुधवार को धरने की अध्यक्षता अमर सिंह बांडाहेड़ी व मांगेराम टोकस ने संयुक्त रूप से की। मंच संचालन विजेंद्र पनिहार ने किया। पांच फरवरी के महारोष प्रदर्शन की तैयारियों को लेकर प्रधान कुरड़ाराम की अगुवाई में लाडवा, दाहिमा, भोजराज, नलवा, बालावास, गुंजार, धमाना, कंवारी में प्रचार अभियान चलाया गया। प्रधान कुरड़ाराम ने कहा कि इस रोष प्रदर्शन को लेकर क्षेत्र के किसानों में भारी जोश है। महिलाएं भी आंदोलन में शामिल होंगी। पांच फरवरी को अनाज मंडी में ट्रैक्टर-ट्रालियों के साथ शक्ति प्रदर्शन करेंगे। आज के धरने को कामरेड कृष्ण स्वरूप गोरखपुरिया ने अपना समर्थन दिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×