Hindi News »Haryana »Hisar» एससी, एसटी के ढाई हजार स्टूडेंट को नहीं मिली स्कॉलरशिप, जीजेयू ने रोकी डीएमसी

एससी, एसटी के ढाई हजार स्टूडेंट को नहीं मिली स्कॉलरशिप, जीजेयू ने रोकी डीएमसी

जीजेयू से डिस्टेंस एजुकेशन के जरिये विभिन्न कोर्स करने वाले एससी, एसटी के ढाई हजार स्टूडेंट की स्कॉलरशिप न मिलने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:20 AM IST

जीजेयू से डिस्टेंस एजुकेशन के जरिये विभिन्न कोर्स करने वाले एससी, एसटी के ढाई हजार स्टूडेंट की स्कॉलरशिप न मिलने के कारण पिछले तीन साल से डीएमसी नहीं मिल पा रही है। नतीजतन विभिन्न कोर्सों से पासआउट हो चुके इन विद्यार्थियों को जॉब के लिए अप्लाई करने में भी परेशानी उठानी पड़ रही है।

विद्यार्थी विभिन्न कोर्सों से पासआउट होने के बावजूद मार्कशीट लेने के लिए जीजेयू के चक्कर लगा रहे हैं। लेकिन उन्हें पिछले तीन साल से निराशा झेलनी पड़ रही है। खास बात यह है कि सिर्फ वर्ष 2014-15 व 15-16 के सेशन मेें जीजेयू के विभिन्न सेंटरों से डिस्टेंस के जरिये एमसीए, एमबीएम, बीसीए जैसे कोर्स कर चुके विद्यार्थियों की ही स्कॉलरशिप नहीं भेजी। जबकि इसके बाद सेशन 2016-17 के विद्यार्थियों की स्कॉलरशिप भेजी जा चुकी है। मंगलवार को एक छात्र ने जॉब में अप्लाई करने की अंतिम तिथि कहकर प्रोविजनल मार्कशीट लेने के लिए वीसी से रिक्वेस्ट की। लेकिन स्टूडेंट को प्रोविजनल मार्कशीट भी नहीं मिल पाई।

यह है प्रक्रिया

जीजेयू में एससी, एसटी स्टूडेंट को डिस्टेंस व रेगुलर में विभिन्न कोर्सज में एक हजार रुपए की सिक्योरिटी पर दाखिल दिया जाता है। उनकी फीस स्कॉलरशिप पर डिपेंड होती है। यह स्कॉलरशिप विवि के अकाउंट में जारी की जाती है। जिसे स्टूडेंट की फीस के रूप में जमा किया जाता है। जिसके बाद स्टूडेंट को मार्कशीट जारी की जाती है।

प्रोविजनल डीएमसी भी नहीं हो सकती जारी

जीजेयू में डिस्टेंस एजुकेशन के डायरेक्टर एमसी गर्ग ने बताया कि स्टूडेंट की स्काॅलरशिप मिलने के बाद ही उनकी फीस जमा होगी। जिसके बाद उनकी डीमएसी जारी की जा सकती है। विवि की ओर से स्कॉलरशिप मिलने में किसी प्रकार की देरी नहीं है। जैसे ही स्कॉलरशिप जारी कि जाएगी। स्टूडेंट को उनकी डीएमसी दे दी जाएगी। उससे पहले प्रोविजनल डीएमसी भी नहीं दी जा सकती। स्कॉलरशिप मिलने से पहले स्टूडेंट फीस जमा कर मार्कशीट प्राप्त कर सकते हैं।

चंडीगढ़ भेजी है फाइल

विश्वविद्यालय की ओर से स्काॅलरशिप व डीएमसी देने में किसी प्रकार की देरी नहीं की गई है। एससी-एसटी डिस्टेंस एजुकेशन की ओर से इस बैच के छात्रों की स्कॉलरशिप जारी नहीं की गई है। जिससे कारण छात्रों को डीएमसी नहीं मिल पा रही। हालांकि इसके लिए चंडीगढ़ फाइल भेजी हुई है।'' अनिल कुमार पुंडीर, रजिस्ट्रार, जीजेयू, हिसार

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×