• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • प्रदेश कांग्रेस दोफाड़ पूर्व सीएम और प्रदेशाध्यक्ष के बीच थम नहीं रहा विवाद
--Advertisement--

प्रदेश कांग्रेस दोफाड़ पूर्व सीएम और प्रदेशाध्यक्ष के बीच थम नहीं रहा विवाद

भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा प्रदेश कांग्रेस में पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा और प्रदेशाध्यक्ष के बीच चल...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 07:05 AM IST
भास्कर न्यूज | राजधानी हरियाणा

प्रदेश कांग्रेस में पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा और प्रदेशाध्यक्ष के बीच चल रहा विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। हुड्‌डा खेमा पहले की भांति पूरी तंवर के कार्यक्रमों से दूरी बनाए हुए है। यह रार एक बार फिर गुरुवार को पंचकूला में आयोजित उत्तरी हरियाणा के 7 जिलों के मंथन शिविर में दिखाई दिया। इसमें पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्‌डा समेत कोई भी विधायक नहीं पहुंचा।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने हुड्‌डा की रथयात्रा में शामिल होने के सवाल को टाल दिया। उन्होंने कहा कि मैं साइकिल यात्रा निकाल रहा हूं। मेरी पर साइकिल बैठे, लेकिन साइकिल मैं ही चलाऊंगा। गांव-गांव जाएंगे। अभी घोषणा पत्र भी तैयार होना है। उन्होंने सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा के बयान कि सही समय पर केंद्रीय नेतृत्व सही फैसला करेंगे पर कहा कि इसका मतलब यह हुआ कि अभी भी सही ही फैसला हुआ है। वहीं, प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि भाजपा की जींद रैली में शामिल होने आ रहे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का काले झंडे दिखाकर विरोध किया जाएगा।

कांग्रेस के मंथन शिविर में नहीं पहुंचे हुड्‌डा व कोई विधायक, हुड्‌डा की रथयात्रा पर तंवर बोले- मेरी साइकिल पर बैठंे, लेकिन चलाऊंगा मैं ही

मंथन शिविर में आने वाले संघर्षशील लीडर ही बनेंगे विधायक और सांसद

पंचकूला में मंथन शिविर का उद्‌घाटन करते पवन बंसल।

प्रदेशाध्यक्ष तंवर ने इशारों-इशारों में एक बार फिर पूर्व सीएम हुड्‌डा पर निशाना साधा। उन्होंने इशारा कि चुनाव में टिकट बांटने में उनकी ही चलेगी। साथ ही घोषणा की कि हिसार में 7 व 8 फरवरी के बाद रोहतक में ही मंथन सभा का आयोजन होगा। उन्होंने कहा कि मंथन शिविरों में भविष्य की लीडरशिप आ रही है। ये लोग चार साल से संघर्ष कर रहे हैं, जो ऐसा करेगा, वही एमएलए और एमपी बनेगा। विधायकों एवं पूर्व विधायकों की ओर से चंदा न देने के सवाल पर कहा कि वह धनवानों को पार्टी से नहीं जोड़ना चाहते। यह पार्टी गरीब और मेहनती लोगों की है। पूर्व में पार्टी फंड में करोड़ों रुपए के हिसाब के सवाल पर कहा कि जो बोल रहे हैं, वह पैसे कौनसे उनके थे। पार्टी नेताओं के एक मंच पर न आने के सवाल पर कहा कि मैं सभी को संयुक्त रूप से संघर्ष करने के लिए आमंत्रित करता हूं। एनएसयूआई प्रदेशाध्यक्ष बुद्धिराजा के मामले पर कहा कि किसी का तरीका गलत हो सकता है, लेकिन सीएम से सवाल पूछना गलत नहीं है।

इधर- सीएम सूरजकुंड में मंत्रियों-विधायकों को लंच करा दूर करेंगे नाराजगी

फरीदाबाद |
भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के प्रदेश आगमन से पहले सीएम मनोहर लाल मंत्री-विधायकों की नाराजगी दूर करना चाहते हैं। 2 फरवरी को सीएम ने सभी मंत्रियों व विधायकों के साथ लंच करेंगे। सरकार की कार्यशैली व अफसरशाही हावी होने को लेकर कुछ विधायक व मंत्री नाराज हैं। यह शाह के सामने न आए, इसलिए यह सब किया जा रहा है। मंत्रियों व विधायकों के सरकार विरोधी बयान सामने आ रहे हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..