Hindi News »Haryana »Hisar» ताला ले बिजलीघर पहुंचे ग्रामीण, फीडर चालू करने के लिए दिया दो दिन का अल्टीमेटम

ताला ले बिजलीघर पहुंचे ग्रामीण, फीडर चालू करने के लिए दिया दो दिन का अल्टीमेटम

सिंघानी में घरों, दुकानों के लिए अलग से बिजली लाइन खींचने का काम कई महीने पहले पूरा किया जा चुका है। लेकिन फीडर को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:30 AM IST

सिंघानी में घरों, दुकानों के लिए अलग से बिजली लाइन खींचने का काम कई महीने पहले पूरा किया जा चुका है। लेकिन फीडर को अभी तक चालू नहीं किया गया है। परेशान ग्रामीण व दुकानदार रविवार को ताला लेकर सब स्टेशन पहुंचे और एक्सईन से बात करने के बाद दो दिन का निगम को अल्टीमेटम दिया है।

रविवार को सिंघानी गांव के सरपंच सुरेन्द्र राठी की अगुवाई में रामानंद, दलबीर सिंह, जगदीश रोहिल्ला, जनकवीर, धर्मेंद्र पंच, बाबूलाल, रामबिलास, जिले सिंह, संजय सहित अनेक ग्रामीण बिजलीघर पहुंचे। उनका आरोप था कि गांव में दुकानदारी तथा फर्मों पर कार्य के लिए दिन में एक घंटे तक की बिजली भी नहीं मिल पाती तथा इससे उनका धंधा पूरी तरह से ठप हो गया है। ग्रामीणों ने लगभग आठ माह पहले निगम के अधिकारियों ओर सरकार के समक्ष यह मांग उठाई थी तथा डीसी ने इस मामले में पंचायत की ओर से पैसा जमा कराकर अलग लाइन डालने की बात कष्ट निवारण समिति की बैठक में की थी। इसके बाद पंचायत द्वारा पैसा जमा कराने के छह माह बाद भी कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि सिंघानी में बस स्टैंड तथा नेशनल ओर स्टेट हाईवे पर बड़ी मार्केट है तथा सैकड़ों दुकानदार ओर उद्योगों में बिजली नहीं होने के कारण उनका कारोबार पूरी तरह से ठप हो रहा है। उनका कहना है कि दुकानदारों के लिए अलग से फीडर का काम पूरा किया जा चुका है तथा जरूरी मशीन व उपकरण 33 केवी सिंघानी में खुले में ही पड़े हैं परन्तु इनको लगवाकर चालू नहीं कराया जा रहा है। निगम के एक्सईन से सरपंच की बातचीत के बाद तालाबंदी नहीं की गई तथा दो दिन का समय दिया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि यदि दो दिन में ग्रामीण फीडर को चालू करने का काम पूरा नहीं किया गया तो वे बिजलीघर को अनिश्चित समय के लिए ताला लगा देंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×