• Home
  • Haryana
  • Hisar
  • ई-प्रणाली लागू करने से पहले सुविधाओं की व्यवस्था करें ताकि पंचायत और ग्रामीण परेशान न हों: खिलेरी
--Advertisement--

ई-प्रणाली लागू करने से पहले सुविधाओं की व्यवस्था करें ताकि पंचायत और ग्रामीण परेशान न हों: खिलेरी

पंचायतों के प्रति सरकार की बेरूखी के विरोध में फतेहाबाद में सरपंचों और ग्राम सचिवों ने अनोखे अंदाज में रोष जताया।...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:45 AM IST
पंचायतों के प्रति सरकार की बेरूखी के विरोध में फतेहाबाद में सरपंचों और ग्राम सचिवों ने अनोखे अंदाज में रोष जताया। नाराज सरपंचों ने काले पटके लेकर मुख्यमंत्री व कृषिमंत्री के चित्र पर फूलों का माला चढ़ाकर उनकी शोकसभा की और दो मिनट का मौन भी रखा। तीन सरपंचों ने भूख हड़ताल भी की। सरपंच व ग्राम सचिवों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। फतेहाबाद खंड के सरपंच व ग्राम सचिव ने बीडीपीओ कार्यालय में धरने के दूसरे दिन मुख्यमंत्री मनोहरलाल व कृषिमंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की शाेकसभा का आयोजन किया।

सरपंच एसोसिएशन के प्रधान राजेंद्र खिलेरी के नेतृत्व में सभी सरपंचों ने काले पटके लेकर विरोध जताया और दोनों नेताओं के चित्र के समक्ष फूल चढाएं। प्रवक्ता धांगड़ के सरपंच प्रेम कारगवाल ने कहा कि सरपंचों ने प्रतिनिधिमंडल के माध्यम से मुख्यमंत्री को अलग-अलग 9 मांगों पर ज्ञापन सौंपा था लेकिन मुख्यमंत्री ने केवल पंचायत की ई-प्रणाली को मुद्दा बनाकर जनता के सामने सरपंचों की छवि धूमिल करने का प्रयास किया है। प्रधान राजेंद्र खिलेरी ने कहा कि हमारी मांग केवल सरकार से इतनी है कि पंचायतों में ई-प्रणाली लागू करने से पहले ऑपरेटरों व अन्य सुविधाओं की व्यवस्था करें ताकि पंचायत व ग्रामीणों को इसके लिए परेशान न होना पड़े। लेकिन सरकार ने ई-प्रणाली मुद्दे पर यह संदेश देेने का काम किया है जैसे कि सरपंच लुटेरे हो।

बीडीपीओ कार्यालय के बाहर धरना देते सरपंच व ग्राम सचिव।

तीन सरपंचों ने की भूख हड़ताल

अनिश्चितकालीन धरने के दूसरे दिन खाराखेड़ी के राजेंद्र खिलेरी, अयालकी के कृष्ण कुमार व भूथनकलां के सरपंच महेंद्र सिंह ने ूख हड़ताल की।

अाज करेंगे हवन यज्ञ व फूकेंगे पूतला

सरपंच एसोसिएशन के प्रवक्ता प्रेम सिंह कारगवाल ने बताया कि अपनी मांगों को लेकर सरपंचों द्वारा सोमवार को हवन यज्ञ किया जाएगा। इसके बाद रोष प्रदर्शन करते हुए सरपंच व ग्राम सचिव लालबत्ती चौक पर मुख्यमंत्री का पूतला फूंकेंगे। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में महिला सरपंच रोष प्रदर्शन की अगुवाई करेगी। इस मौके पर सरपंच जोगेंद्र पूनिया, भूप सिंह फौजी, रोशन कंबोज, किरणपाल, महेंद्र कुलड़िया, सुभाष चंद्र, जगदीश राहड़ आदि मौजूद थे।

रतिया में बेमियादी धरना रहा जारी

रतिया | सरपंच व ग्राम सचिव वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा बुढ़लाडा रोड स्थित बीडीपीओ कार्यालय में रविवार को भी जिला स्तरीय अनिश्चितकालीन धरना भूख हड़ताल जारी रही। एसोसिएशन ने गांवों में जाकर ग्रामीणों को भी रतिया धरने में शामिल होने की अपील की। अध्यक्षता सरपंच एसोसिएशन के प्रधान जितेंद्र साधा ने की। भूख हड़ताल पर दूसरे दिन तीन सरपंच, पूर्व सरपंच व दो सचिव बैठे। धरने में मुख्य रूप से किसान सभा के तहसील सचिव कामरेड छत्रपाल सिंह पहुंचे। इस मौके पर सरपंच विजय शहनाल, हवा सिंह फगेडिय़ा, जगराज सिंह, सुरजीत सिंह, मंगत राम, गुरमीत कमाना ने भी संबोधित किया

भूना में भूख हड़ताल जारी

भूना| सरकार द्वारा पंचायती राज पर लागू की गई ई-पंचायत प्रणाली के खिलाफ ब्लॉक भूना के दर्जनों ग्राम पंचायतों व ग्राम सचिवों का रोष प्रदर्शन, अनिश्चितकालीन धरना व भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही। खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय के बाहर आयोजित धरने में ग्राम सचिव रामनिवास बिश्नोई, ढाणी सांचला के सरपंच साधू राम टाक व ढाणी डूल्ट के सरपंच जय प्रकाश मावलिया को माला पहनाकर भूख हड़ताल पर बैठाया गया। धरने पर जिला पार्षद रामचंद्र सहनाल व बीबो इंदौरा तथा किसान सभा एवं किसान संघर्ष समिति ने अपना समर्थन दिया। संघर्ष समिति के संयोजक चांदी राम कड़वासरा, किसान सभा के जिला प्रधान रामस्वरूप ढाणी गोपाल, संघर्ष समिति के प्रधान करनैल सिंह, जिले सिंह जाखड़ सहित अन्य मौजूद रहे।