Hindi News »Haryana »Hisar» बर्खास्त सरपंच पर पिछली डेट में चेक काटकर काम कराने का आरोप, लाेगों ने जताया एतराज

बर्खास्त सरपंच पर पिछली डेट में चेक काटकर काम कराने का आरोप, लाेगों ने जताया एतराज

फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र से चुनाव लड़ने के आरोप में सस्पेंड गांव नहला की सरपंच की ओर से गांव में अभी भी विकास...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:45 AM IST

फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र से चुनाव लड़ने के आरोप में सस्पेंड गांव नहला की सरपंच की ओर से गांव में अभी भी विकास कार्य कराए जा रहे हैं। गांव के लोगों ने अधिकारियों की मिलीभगत से बर्खास्त सरपंच के पीछे की डेट में चेक काटे जाने के भी गंभीर आरोप लगाए हैं।

गांव नहला निवासी आशुतोष, रमेश कुमार ने आरोप लगाया है कि नहला की सरपंच नीलम देवी को उपायुक्त फतेहाबाद ने 16 मार्च को फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र के कारण बर्खास्त कर दिया था। मगर पंचायत विभाग के संबंधित अधिकारियों की मिलीभगत से वर्तमान में भी विकास कार्य प्रगति पर हैं।

उपरोक्त विकास कार्यों की राशि का भी भुगतान बर्खास्तगी से पूर्व के दिनों में चेक के द्वारा किया जा रहा है। उन्होंनें बताया कि बर्खास्त हुई सरपंच से अभी तक पंचायत का चार्ज भी वापस नहीं लिया है, जिससे अधिकारियों की सांठगांठ स्पष्ट हो रही है। शिकायतकर्ताओं ने बताया कि मामले को लेकर बीडीपीओ भूना को भी अवगत करवा चुके हैं, मगर उन्होंने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। नहला वासियों ने उपायुक्त से मामले की निष्पक्ष जांच करके बर्खास्त की गई सरपंच से पंचायती अधिकार वापस लेने की मांग की है।

इस बारे में बीडीपीओ रविंद्र कुमार दलाल ने बताया कि नहला में सरपंच नीलम देवी बर्खास्त हो चुकी है। मगर बर्खास्त होने से पूर्व शुरू किए गए, विकास कार्य करवाएं जा रहे हैं। बर्खास्तगी के बाद का कोई भी नया कार्य शुरू नहीं किया गया है। मगर सरपंच से चार्ज क्यों नहीं लिया गया, इस पर वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सके।

फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र से चुनाव लड़ने के आरोप में किया गया है सस्पेंड

फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र से चुनाव लड़ने के आरोप में किया गया है सस्पेंड

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×