Hindi News »Haryana News »Hisar» Karnal Distrct Lead For Burn Crop Burn

पराली जलाने में करनाल सबसे आगे, 2013 से अब तक 2.2 लाख हे. में जलाई गई

संजय योगी | Last Modified - Nov 11, 2017, 06:52 AM IST

धान उगाने वाले प्रदेश के दस जिलों में से सूबे के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का जिला सबसे आगे है।
पराली जलाने में करनाल सबसे आगे,  2013 से अब तक 2.2 लाख हे. में जलाई गई
हिसार.धान उगाने वाले प्रदेश के दस जिलों में से सूबे के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का जिला सबसे आगे है। 2013 से अब तक अकेले करनाल में सभी जिलों के बराबर जमीन 2 लाख 20 हजार 610 हेक्टेयर पर पराली को जलाया जा चुका है। यह खुलासा हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी केे कैंपस में बने हरियाणा स्पेस एप्लीकेशन सेंटर के 2013 से लेकर अब तक पराली जलाए जाने वाले जिलों के आंकड़ों से हुआ है।

सेंटर हर साल सैटेलाइट के जरिए प्रदेश के धान उगाने वाले जिलों में पराली जलाने वाली जगहों काे चिह्नित कर आंकड़ा जुटाता है। इन आंकड़ों में करनाल जिला पराली जलाने में सबसे ऊपर है। वहीं सोनीपत में सबसे कम पराली जलाई जाती है।

सैटेलाइट से जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार फिलहाल 26 अक्टूबर तक करनाल जिले की 42 हजार 110 हेक्टेयर जमीन पर पराली जलाई जा चुकी है। वर्ष 2013 में 54 हजार 300, वर्ष 2014 में 34 हजार 400, वर्ष 2015 में 44 हजार व वर्ष 2016 में 45 हजार 800 हेक्टेयर जमीन पर पराली जलाई गई थी। इस वर्ष सबसे कम सोनीपत में 180 हेक्टेयर जमीन पर पराली को आग के हवाले किया गया है।
इस वर्ष टूट सकता है 2013 का भी रिकाॅर्ड
पराली जलाने के मामले का रिकाॅर्ड वर्ष 2013 के नाम है। इस वर्ष 2 लाख 8 हजार 300 हेक्टेयर में पराली जलाई गई थी। उसके बाद 2016 में 3 लाख 2 हजार 300 हेक्टेयर में पराली को आगे के हवाले किया गया था। परंतु इस वर्ष 26 अक्टूबर तक मिले रिकार्ड के अनुसार एक लाख 35 हजार 720 हेक्टेयर में तो आग लगाई जा चुकी है। उसके बाद 3445 जगहों पर जलाई गई पराली से यह आंकड़ा लगभग एक लाख 87 हजार 395 हेक्टेयर तक पहुंच चुका है। वैज्ञानिकों के अनुसार 20 नवंबर तक पराली जलाए जाने की घटना होती रहती है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: paraali jlaane mein karnaal sabse aage, 2013 se ab tak 2.2 laakh he. mein jlaaee gayi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Hisar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×