Hindi News »Haryana News »Hisar» People Died And Injured In Road Accidents Due To Poor Visibility

हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल

संजय योगी | Last Modified - Nov 07, 2017, 04:07 AM IST

कई दिन से पड़ रही धुंध में पराली का धुआं मिलने से घना स्मॉग बन गया है। यह आसमान में छा चुका है।
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
    पानीपत में सोमवार को शाम 5 बजे ही व्हेकिल्स की लाईटें जलाकर चलना पड़ा।
    हिसार.कई दिन से पड़ रही धुंध में पराली का धुआं मिलने से घना स्मॉग बन गया है। यह आसमान में छा चुका है। सोमवार को हरियाणा के कई इलाकों में विजिबिलिटी शून्य हो गई। पूरा दिन सूरज नहीं निकल सका। इससे अलग-अलग 50 जगह 100 से ज्यादा व्हेकिल्स आपस में टकरा गए। हादसों में 7 लोगों की मौत हो गई। जबकि 112 घायल हैं।
    एक साथ 640 जगह जलाई गई पराली...
    - हरियाणा स्पेस एप्लीकेशन सेंटर (हरसेक) हिसार के सांइंटिस्टो ने सैटेलाइट के जरिए पता लगाया है कि रविवार को हरियाणा में करीब 640 जगहों पर पराली जलाई गई।
    - हरसेक के चीफ साइंटिस्ट डॉ. आरएस हुड्‌डा के मुताबिक राज्य में 30 अक्टूबर तक ही एक लाख 40 हजार हेक्टेयर जमीन पर पराली जलाई जा चुकी थी। सैटेलाइट से केवल 8 एकड़ से अधिक जमीन पर लगाई आग ही पकड़ में आती है। वरना यह आंकड़ा अधिक है।
    - वेदर डिपार्टमेंट के पूर्व डायरेक्टर चतर सिंह मलिक के अनुसार स्मॉग से तभी राहत मिल सकती है, जब तेज हवा चले या बरसात हो। 13 नवंबर को वेस्टर्न डिस्टर्बेंस से तेज हवा या बरसात हो सकती है।
    नवंबर में जली पराली
    तारीखजगह
    1 नवंबर225
    2 नवंबर250
    3 नवंबर300
    4 नवंबर425
    5 नवंबर640
    इसलिए छाया स्मॉग
    - सोमवार को करनाल में दिन का पारा 2.5 डिग्री गिरकर 29.0 डिग्री पर आ गया। हिसार में रात का टेम्परेचर 0.5 डिग्री घटकर 13.9 डिग्री रह गया है।
    - जम्मू-कश्मीर की ओर से चल रही मंद-मंद उत्तर-पश्चिमी हवा अपने साथ नमी लेकर आ रही है। ऐसे मौसम में धुआं व सस्पेंडेड पार्टिकल्स ऊपर उठने के बजाय नीचे ही रह गए हैं, जिन्होंने फाॅग के साथ मिलकर स्मॉग का रूप ले लिया है।
    इन जिलों में हादसे
    -करनाल में अलग-अलग जगह 30 व्हेकिल भिड़े, एक की मौत, 24 घायल।
    -फतेहाबाद में 7 हादसे, 2 की मौत, 20 घायल।
    -चरखी दादरी में हादसे में पिता-बेटे की मौत, एक घायल।
    -सिरसा में दो हादसों में 5 घायल।
    -हिसार में दर्जन भर हादसे, 18 घायल।
    - जींद में 4 जगह हादसे, एक की मौत, 14 घायल।
    - कैथल में 15 जगह वाहन भिड़े, 10 घायल। वाहन ने सैर करने जा रहे बुजुर्ग को कुचला।
    - कुरुक्षेत्र में 5 जगह 12 वाहन भिड़े, 20 लोग घायल।
    स्मॉग से इन रोगियों को होती है परेशानी
    स्मॉग से सांस संबंधी रोगियों (दमा, टीबी, फेफड़ों संबंधी रोग) को ज्यादा परेशानी होती है। आंखों व त्वचा संबंधी बीमारी बढ़ती हैं। आंखों में जलन होती है।
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
  • हरियाणा में घने स्मॉग से विजिबिलिटी हुई शून्य, 100 से ज्यादा हादसे में 7 की मौत, 112 घायल
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: People Died And Injured In Road Accidents Due To Poor Visibility
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Hisar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×