--Advertisement--

डीएसपी को कमरा देने पर भड़के कर्मी नेता, बोले-पहले बिना बिल चुकाए चले गए थे पुलिस अफसर

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 07:02 AM IST

लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में डीएसपी सिटी विरेंद्र सिंह को रहने के लिए दो कमरे देने पर विवाद हो गया है।

workers angry on no give room

हिसार। लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में डीएसपी सिटी विरेंद्र सिंह को रहने के लिए दो कमरे देने पर विवाद हो गया है। विभाग के कर्मचारी नेताओं ने विरोध किया है। कर्मचारी नेताओं का कहना है कि बिना किसी मंजूरी के डीएसपी को रहने के लिए कमरे दिए गए हैं। यह कमरे नेताओं या अधिकारियों के साथ आने वाले ड्राइवरों गनमैन के लिए हैं।


हरियाणा गवर्नमेंट पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल यूनियन के राज्य उपप्रधान गंगाराम पब्लिक हेल्थ मैकेनिकल यूनियन के प्रधान ऋषिकेश ढांडा ने कहा कि रेस्ट हाउस में सबऑर्डिनेट क्वार्टर हैं। यह रेस्ट हाउस में आए अधिकारियों के साथ ड्राइवर गनमैन के रुकने के लिए है। वर्ष 2012 में डीसी की अनुमति पर एएसपी के लिए यह कमरे दिए गए थे। तब पुलिस द्वारा इसका बिजली बिल भी भरा जाता था। लेकिन बाद में इसमें एसएचओ स्तर के अधिकारी रहने लगे और इसका बिल नहीं भरा। विभाग पर 1 लाख 11 हजार रुपये का बिजली बिल बकाया हो गया। बिल भरने पर कनेक्शन काट दिया गया। अब डीएसपी फिर से इसमें रहना शुरू कर रहे हैं। इसके लिए कोई मंजूरी नहीं ली गई है। पुलिस द्वारा दो कमरों पर अपना ताला लगा कर बेड, सोफा आदि सामान रख लिया है। कमरों बाहर का रंग रोगन मरम्मत कार्य भी करवाया गया है।

X
workers angry on no give room
Astrology

Recommended

Click to listen..