Hindi News »Haryana »Hisar» Workers Angry On No Give Room

डीएसपी को कमरा देने पर भड़के कर्मी नेता, बोले-पहले बिना बिल चुकाए चले गए थे पुलिस अफसर

लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में डीएसपी सिटी विरेंद्र सिंह को रहने के लिए दो कमरे देने पर विवाद हो गया है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 26, 2017, 07:02 AM IST

डीएसपी को कमरा देने पर भड़के कर्मी नेता, बोले-पहले बिना बिल चुकाए चले गए थे पुलिस अफसर

हिसार। लोक निर्माण विभाग के रेस्ट हाउस में डीएसपी सिटी विरेंद्र सिंह को रहने के लिए दो कमरे देने पर विवाद हो गया है। विभाग के कर्मचारी नेताओं ने विरोध किया है। कर्मचारी नेताओं का कहना है कि बिना किसी मंजूरी के डीएसपी को रहने के लिए कमरे दिए गए हैं। यह कमरे नेताओं या अधिकारियों के साथ आने वाले ड्राइवरों गनमैन के लिए हैं।


हरियाणा गवर्नमेंट पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल यूनियन के राज्य उपप्रधान गंगाराम पब्लिक हेल्थ मैकेनिकल यूनियन के प्रधान ऋषिकेश ढांडा ने कहा कि रेस्ट हाउस में सबऑर्डिनेट क्वार्टर हैं। यह रेस्ट हाउस में आए अधिकारियों के साथ ड्राइवर गनमैन के रुकने के लिए है। वर्ष 2012 में डीसी की अनुमति पर एएसपी के लिए यह कमरे दिए गए थे। तब पुलिस द्वारा इसका बिजली बिल भी भरा जाता था। लेकिन बाद में इसमें एसएचओ स्तर के अधिकारी रहने लगे और इसका बिल नहीं भरा। विभाग पर 1 लाख 11 हजार रुपये का बिजली बिल बकाया हो गया। बिल भरने पर कनेक्शन काट दिया गया। अब डीएसपी फिर से इसमें रहना शुरू कर रहे हैं। इसके लिए कोई मंजूरी नहीं ली गई है। पुलिस द्वारा दो कमरों पर अपना ताला लगा कर बेड, सोफा आदि सामान रख लिया है। कमरों बाहर का रंग रोगन मरम्मत कार्य भी करवाया गया है।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: diespi ko kmraa dene par bhdeke karmi netaa, bole-pehle binaa bil chukae chle gae the police afsr
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Hisar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×