Hindi News »Haryana News »Hisar» Eight Guilty Convicts In Bittu Sharma Murder Case

पूर्व मंत्री सावित्री जिंदल के पीए के भतीजे बिट्टू शर्मा मर्डर केस में आठ दोषी करार

Bhaskar News | Last Modified - Nov 14, 2017, 06:29 AM IST

अदालत ने संदेह का लाभ देते हुए दो आरोपियों को बरी कर दिया। अदालत ने दोषियों को सजा सुनाने के लिए 16 नवंबर की तिथि तय की
पूर्व मंत्री सावित्री जिंदल के पीए के भतीजे बिट्टू शर्मा मर्डर केस में आठ दोषी करार

हिसार.पूर्व मंत्री सावित्री जिंदल के पीए ललित शर्मा के भतीजे बिट्टू शर्मा की हत्या के मामले में अतिरिक्त सेशन जज अजय पराशर की अदालत ने सोमवार को आठ आरोपियों को दोषी करार दिया है। अदालत ने संदेह का लाभ देते हुए दो आरोपियों को बरी कर दिया। अदालत ने दोषियों को सजा सुनाने के लिए 16 नवंबर की तिथि तय की है।

मॉडल टाउन स्थित हरियाणा ब्लड बैंक वाली गली के निवासी कृष्ण कुमार शर्मा ने पुलिस को बताया था कि वह दो भाई हैं। उसका बड़ा भाई बिट्टू उर्फ संजय शर्मा लाडवा वासी सत्येंद्र पूनिया के साथ प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता था। पुष्पा कॉम्प्लेक्स की दुकान संख्या 217 219 में आॅफिस बनाया हुआ था। 24 जनवरी 2014 की दोपहर करीब 3.09 बजे सत्येंद्र ने उसे फोन किया कि बिट्टू उर्फ संजय को गोली मार दी है। इसके बाद वह और उसके चाचा शांति विहार निवासी ललित शर्मा पुष्पा कॉम्प्लेक्स में पहुंचे और सीढ़ियों से बिट्टू की दुकान पर जाने लगे। इस दौरान ऊपर से चार-पांच लोग हाथों में पिस्तौल लिए हुए भागते नीचे की ओर आते हुए दिखे। वह और उसके चाचा मौके पर पहुंचे तो बिट्टू खून से लथपथ मृत पड़ा था।

यहां मौजूद सत्येंद्र पूनिया ने बताया कि बिट्टू उर्फ संजय को विनोद पानू उर्फ काना और उसके साथियों ने गोलियां मारी हैं। कृष्ण कुमार ने बताया कि बिट्टू का पैसों के लेन-देन को लेकर सूर्यनगर वासी दिनेश पूनिया से विवाद हो गया था। इसी रंजिश के कारण षड्यंत्र रचकर दिनेश पूनिया ने हत्या करवाई। पुलिस की तफ्तीश के दौरान विनोद पानू उर्फ काना सहित 14 लोगों के नाम सामने आए। पुलिस विनोद पानू को तो नहीं पकड़ पाई, लेकिन 12 को गिरफ्तार कर लिया। इनमें दो जुवेनाइल घोषित हो गए।


अदालत में 10 आरोपियों पर मुकदमा चला। इस मुकदमे की सुनवाई अतिरिक्त सेशन अजय पराशर की अदालत में हुई। सुनवाई के दौरान कई गवाह और हत्या से संबंधित साक्ष्य पेश किए गए। अदालत ने साक्ष्यों और गवाहों के बयानों का गंभीरता से अध्ययन करने सोमवार को फैसला सुनाया। अदालत ने आरोपी निडाना जींद हाल लगरावा झज्जर वासी अमर सिंह उर्फ भोलू एवं करनाल वासी नीरज पूनिया को हत्या एवं सूर्यनगर वासी विकास उर्फ मोगली नजफगढ़ वासी धीरपाल उर्फ ढिल्लू को अवैध शस्त्र अधिनियम तथा सूर्यनगर वासी दिनेश पूनिया, बालसमंद वासी कृष्ण कुमार, लाडवा वासी विक्रम सिंह, झज्जर वासी विकास को षड्यंत्र रचने की धारा 120 में दोषी करार दिया गया है। इसके साथ ही दो आरोपियों में संभोली सोनीपत वासी सतेंद्र खत्री एवं गुरुग्राम सेक्टर 40 के गांव सिलोकरा वासी सोनू उर्फ बाबा को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया। दोषियों को सजा सुनाए जाने के लिए 16 नवंबर की तिथि तय की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: purv Mantri saavitri jindl ke pie ke bhtije bittu shrmaa mrdar kes mein aath dosi karaar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Hisar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×