• Home
  • Haryana
  • Hisar
  • Vigilance team caught food supply department superintendent bribe fatehabad
--Advertisement--

फतेहाबादः राशन डिपो होल्डर से 10 हजार रुपए रिश्वत लेते फूड सप्लाई विभाग का सुपरिटेडेंट गिरफ्तार

विजिलेंस ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत की कार्रवाई।

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 07:14 PM IST

फतेहाबाद। विजिलेंस टीम ने लघु सचिवालय में फूड सप्लाई विभाग के सुपरिटेडेंट को राशन डिपो में अनियमितता न दिखाने के नाम पर डिपोधारक से 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों पकड़ लिया। पुलिस ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

विजिलेंस इंस्पेक्टर सुभाष ने बताया कि गांव मेहूवाला के राजेंद्र ने शिकायत दी थी कि फूड सप्लाई विभाग के सुपरिटेडेंट चतर सिंह उससे डिपो में अनियमितता न दिखाने के नाम पर 10 हजार रुपए रिश्वत के रुप में मांग रहा है।

उसने बताया है कि गांव मेहूवाला में उसका राशन डिपो है। उसने एक दूसरी जगह से अपना डिपू बदला था तो फूड सप्लाई विभाग के सुपरिटेडेंट चतर सिंह उनके डिपो पर चैकिंग के लिए आए थे। डिपो की छत खराब मिली थी। इस पर सुपरिटेडेंट चतर सिंह ने उससे 10 हजार रुपए रिश्वत के रुप में मांगते हुए कहा कि अगर वह रुपए नहीं देता है तो उसके डिपो की अनियमितता दिखाकर उसका डिपो लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।

विजिलेंस को मामले की शिकायत मिलते ही टीम तैयार की गई और डयूटी मजिस्ट्रेट बीडीपीओ सोमवीर कादयान को नियुक्त किया गया। इसके बाद टीम ने 2- 2 हजार रुपए के पांच नोट पर स्याही लगाकर शिकायतकर्ता को दे दिए। इसके बाद शिकायतकर्ता रुपए लेकर लघु सचिवालय के दूसरी बिल्डिंग में बने फूड सप्लाई विभाग में सुपरिटेडेंट चतर सिंह के कार्यालय में पहुंचा।

जैसे ही सुरपरिडेंट को रुपए दिए तो विजिलेंस की टीम ने सुपरिटेडेंट को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों पकड़ लिया। जब उसके टीम ने हाथ धुलाए तो उसके हाथ लाल हो गए। टीम ने इस मामले में सुपरिटेडेंट के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।