• Hindi News
  • Haryana
  • Ismailabad
  • सीएम को काले झंडे दिखाने का डर, इनेलो नेता को सात घंटे थाने में बैठाए रखा
--Advertisement--

सीएम को काले झंडे दिखाने का डर, इनेलो नेता को सात घंटे थाने में बैठाए रखा

भास्कर न्यूज | इस्माइलाबाद-झांसा सीएम मनोहरलाल की कार्यकर्ताओं के यहां चाय पर चर्चा कार्यक्रम को देखते हुए...

Dainik Bhaskar

Jul 06, 2018, 02:15 AM IST
सीएम को काले झंडे दिखाने का डर, इनेलो नेता को सात घंटे थाने में बैठाए रखा
भास्कर न्यूज | इस्माइलाबाद-झांसा

सीएम मनोहरलाल की कार्यकर्ताओं के यहां चाय पर चर्चा कार्यक्रम को देखते हुए पुलिस भी अलर्ट रही। सीएम का कार्यक्रम तय होने के बाद कस्बे में चर्चा थी कि कुछ इनेलो कार्यकर्ता सीएम को काले झंडे दिखाएंगे।

हालांकि इनेलो के किसी नेता ने यह घोषणा नहीं की थी, न ही किसी अन्य संगठन की तरफ से ऐसा कहा गया। बावजूद इसके पुलिस चौकस रही। गुरुवार सुबह एक इनेलो नेता को घर से उठा लिया। जब तक सीएम कैथल की सीमा में प्रवेश नहीं किया, तब तक थाने में बिठाए रखा। हालांकि पुलिस इससे इंकार ही करती रही। कस्बे वासी इनेलो नेता मनजीत सिंह चौधरी को सिर्फ इसीलिए थाने ले गई कि पूर्व में उनके खिलाफ सीएम को काले झंडे दिखाने के आरोप लगे हैं।

चौधरी को सुबह घर से उठाया : पुलिस द्वारा इनेलो के वरिष्ठ नेता मनजीत सिंह चौधरी को सीएम के प्रोग्राम के मद्देनजर थाना में नजरबंद रखना चर्चा में रहा।

खुद मनजीत सिंह ने वाट्स्एम व फेसबुक पर सूचना डाली कि पुलिस ने उन्हें सुबह से नजरबंद किया है। मनजीत ने बताया कि गुरुवार को सुबह वह एक परिचित के निधन पर शोक जताने गए थे। इसी बीच करीब नौ बजे पुलिस कर्मी घर पहुंचे।

वे घर पर नहीं थे, दस बजे जैसे ही वे लौटे, उन्हें अपने साथ थाने ले गए। सुबह दस से शाम पांच बजे तक थाने में बिठाए रखा।

इंक्वायरी के बाद भेज दिया : थाना प्रभारी : वहीं इस्माइलाबाद पुलिस प्रभारी राजेश का कहना है कि मनजीत को बुलाया जरूर था। चर्चा थी कि उसके द्वारा सीएम को काले झंडे दिखाए जाएंगे। मनजीत जाट संघर्ष समिति का पदाधिकारी रहते विरोध प्रदर्शनों में शामिल था। यहां उससे काले झंडे दिखाने बारे पूछताछ करने के कुछ ही देर में फारिग कर दिया था। इसके बाद वह घर चला गया।

पहले खुद सलाह करो-कहना क्या है : ठोल में कुछ युवा सीएम से मिलने पहुंचे, लेकिन यहां अजीब स्थिति बन गई। सीएम युवाओं से मिलने मंच पर जाते समय रुक गए।

पहले मजाकिया लहजे मे पूछा कि यहां कुछ विकास हुआ भी है या नहीं, लेकिन इसका जवाब अलग-अलग मिला। एक ने कहा कि यहां विकास हो रहा है। दूसरे युवक ने कहा, विकास नहीं दिख रहा। इस पर सीएम ने कहा कि पहले आप लोग आपस में सलाह कर लो कि कहना क्या है।

अपना स्वागत खुद कर लेंगे

गांव कलसानी में जैसे सीएम मंच पर पहुंचे तो मंच संचालक ने कहा कि अब राज्य मंत्री कृष्ण बेदी सीएम का स्वागत करेंगे, लेकिन सीएम ने बीच में टोक दिया, कहा कि वे मंत्री जी की ओर से स्वयं ही स्वागत कर लेंगे। यह कहते हुए खुद माइक संभाल लिया। महज आठ मिनट में अपनी बात बोल कर नीचे उतर गए।

ठोल में पुलिस से उलझे युवा

वहीं पुलिस ने ठोल में सुरक्षा घेरा मजबूत किया था। युवाओं का एक दल सीएम से मिलना चाहता था, लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं जाने दिया। इसे लेकर युवाओं और पुलिस के बीच काफी बहस भी हुई।

X
सीएम को काले झंडे दिखाने का डर, इनेलो नेता को सात घंटे थाने में बैठाए रखा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..