• Home
  • Haryana News
  • Ismailabad
  • सीएसआईआर ने शोधार्थियों को नहीं दिया रिजल्ट कार्ड से रोष
--Advertisement--

सीएसआईआर ने शोधार्थियों को नहीं दिया रिजल्ट कार्ड से रोष

इस्माइलाबाद | कस्बे में पीएचडी कर रहे कई शोधार्थियों ने अनुसंधान परिषद की अनदेखी पर रोष जताया है। फिजिक्स जैसे कई...

Danik Bhaskar | Jun 11, 2018, 02:25 AM IST
इस्माइलाबाद | कस्बे में पीएचडी कर रहे कई शोधार्थियों ने अनुसंधान परिषद की अनदेखी पर रोष जताया है। फिजिक्स जैसे कई विषयों पर विभिन्न यूनिवर्सिटी में पीएचडी कर रहे शोधार्थी सुबोध, सुनील, अभिषेक, रीतू, महक आदि ने बताया कि उन्होंने जून 2017 में नेट की परीक्षा दी थी। इसमें उन्होंने जेआरएफ प्राप्त किया। जेआरएफ के बाद उन्होंने पीएचडी में दाखिला लिया। जेआरएफ लेने के बाद पीएचडी करा रहे विभाग द्वारा शोधार्थियों को फैलोशिप दी जाती है। इस फैलोशिप के लिए जेआरएफ का रिजल्ट कार्ड मिलने के बाद ही विद्यार्थी आवेदन कर सकता है। लेकिन सीएसआईआर(वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद) द्वारा अभी तक रिजल्ट कार्ड नहीं दिया गया है। जबकि जून 2017 के बाद सीएसआइआर दिसम्बर 17 में परीक्षा आयोजित कर चुकी है। इसमें भी हजारों विद्यार्थियों ने जेआरएफ लिया है। अब 17 जून को भी नेट की परीक्षा आयोजित कर रहा है। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में लाखों विद्यार्थी हिस्सा लेते है। जिनसे फार्म के नाम पर प्रति छात्र एक हजार रुपए भी लिए जाते हैं। इसके बावजूद विद्यार्थियों की एक नहीं सुनी जा रही है।

अपने रिजल्ट कार्ड को लेकर दिल्ली स्थित कार्यालय में संपर्क करने पर भी संतोषजनक जवाब नहीं मिल रहा। बिना फैलोशिप के पीएचडी करना अभिभावकों के लिए भी मुसीबत बना है। वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद के सीनियर प्रिंसिपल साइंटिस्ट हेमंत कुलकर्णी का कहना है कि सोमवार को ही इस संबंध में कुछ बता सकेंगे।