• Hindi News
  • Haryana News
  • Jagadhari
  • डीएवी कॉलेज लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति का झांसा दे ठगे दो लाख
--Advertisement--

डीएवी कॉलेज लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति का झांसा दे ठगे दो लाख

डीएवी गर्ल्स कॉलेज की लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति दिलाने के नाम पर एक व्यक्ति ने ठग लिया। आरोप है कि आरोपी ने खुद को...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:15 AM IST
डीएवी कॉलेज लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति का झांसा दे ठगे दो लाख
डीएवी गर्ल्स कॉलेज की लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति दिलाने के नाम पर एक व्यक्ति ने ठग लिया। आरोप है कि आरोपी ने खुद को पुलिस अधिकारी बताया था। चार लाख रुपए में सौदा तय हुआ था। दो लाख रुपए एडवांस में दे दिए और दो लाख रुपए काम होने के बाद देना तय हुआ था। लेकिन काम नहीं हुआ। आरोप है कि पैसे वापस मांगे तो जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित ने इसको लेकर शिकायत पुलिस को दी। जगाधरी पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। आरोपी अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

सिविल लाइन निवासी रणजीत सिंह ने जगाधरी पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी बेटी तमन्ना पिछले आठ साल से डीएवी गर्ल्स कॉलेज में अंग्रेजी की अस्थाई प्रोफेसर है। उनकी मुलाकात कई साल पहले शिवपुरी बी निवासी सूरज पाल सिंह उर्फ एसपी राणा से हुई। उसने खुद को पुलिस अधिकारी बताया। उसने बताया था कि वह तमन्ना को स्थाई लेक्चरर लगवा देगा। क्योंकि उनकी डीएवी मैनेजमेंट के लोगों के साथ अच्छी जान पहचान है। वह तमन्ना को स्थाई लेक्चरर लगवा देगा और सरकारी स्केल के अनुसार उसे वेतन मिलेगा। आरोप है कि इस दौरान आरोपी ने चार लाख रुपए मांगे। दो लाख रुपए एडवांस में मांगे। वे उसकी बातों में आ गए। मई 2016 में उन्होंने दो लाख रुपए आरोपी को दे दिए। पैसे देने के बाद भी कई माह तक उसकी बेटी को स्थाई नियुक्ति नहीं मिली। उन्होंने कई बार एसपी राणा से बात की, लेकिन वे हर बार आश्वाासन देता रहा। मई 2017 में उन्होंने पैसे मांगे तो आरोपी नेे उन्हें धमकी दी कि अगर दोबारा पैसे मांगे तो परिवार को खत्म कर देगा। इससे परेशान होकर उन्होंने शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने आरोपी पर धोखाधड़ी, जान से मारने की धमकी की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।


X
डीएवी कॉलेज लेक्चरर को स्थाई नियुक्ति का झांसा दे ठगे दो लाख
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..