झज्जर

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Jhajjar
  • पूर्व सेनाध्यक्ष के सामने हीरो ने बिना कैप पहने किया गलत सेल्यूट, सुहाग ने खुद करके सिखाया
--Advertisement--

पूर्व सेनाध्यक्ष के सामने हीरो ने बिना कैप पहने किया गलत सेल्यूट, सुहाग ने खुद करके सिखाया

ऐसे होता है सेल्यूट... झज्जर के डीएच लारेंस स्कूल में फिल्म की शूटिंग के दौरान हीरो काे सेल्यूट करना सिखाते पूर्व...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:25 AM IST
ऐसे होता है सेल्यूट... झज्जर के डीएच लारेंस स्कूल में फिल्म की शूटिंग के दौरान हीरो काे सेल्यूट करना सिखाते पूर्व सेनाध्यक्ष सुहाग।

फिल्म ‘जय हिंद सर...’ की शूटिंग शुरू, झज्जर में फिल्माएंगे कई सीन

भास्कर न्यूज | झज्जर

सेना देश की आन, बान और शान है। चाहे वह असली जंग का मैदान हो और चाहे फिल्म का सेट। हर जगह सेना के जवान बिल्कुल परफेक्ट होने चाहिए। ऐसा ही नजारा बुधवार को रोहतक रोड स्थित डीएच लारेंस स्कूल में देखने को मिला। यहां देशभक्ति फिल्म जय हिंद सर.. का शुभारंभ करने आर्मी के पूर्व चीफ जनरल दलबीर सिंह सुहाग आए हुए थे। मुहूर्त शॉट में फिल्म का हीरो नव बाजवा अपने सीनियर से छुट्टी मांगने आता है। नव ने आर्मी की ड्रेस तो पहन रखी थी, लेकिन उसके सिर पर कैप नहीं थी। इस पर सुहाग ने यूनिट को टोकते हुए कहा कि सेना में यह सख्त नियम है कि अफसर के सामने सिर पर कैप लगाकर ही कोई जवान बात करता है। इसके बाद कैप मंगवाई गई।

...जब दो बार मंगवानी पड़ी हीरो के लिए कैप

हीरो के लिए आर्मी कैप आई तो वो ऊपर से कुछ मुड़ी हुई थी तब सुहाग ने दूसरी कैप मंगवाई। शॉट से पहले फिल्म के हीरो ने जब सुहाग के सामने अपने डाॅयलाग बोलकर उन्हें सेल्यूट किया तब सेल्यूट करने के तरीके को भी सुहाग ने गलत बताते हुए हीरो को समझाया कि कैसे सेल्यूट किया जाता है। उन्होंने खुद सेल्यूट करके बताया कि कोहनी और कलाई का क्या एंगल होना चाहिए। अंगुलियां खुली और मुड़ी हुई नहीं होनी चाहिए। उन्होंने सेना से जुड़ी कई बारीकियां यूनिट के साथ सांझा की।

फिल्म के मुहूर्त पर आए दलबीर सिंह सुहाग ने दिया संदेश, फिल्म हो चाहे सेना का मैदान... फौजी अनुशासन में दिखना चाहिए

सुहाग के कहने पर झज्जर में ही होगी देशभक्ति फिल्म की शूटिंग

फिल्म के निर्देशक व मूल रूप से दुजाना गांव निवासी हरीश अरोड़ा ने बताया कि वे 2017 में आर्मी चीफ सुहाग से मिले थे और अपनी आगामी लव स्टोरी की एक फिल्म बनाने पर चर्चा की थी। तब जनरल सुहाग के कहने पर ही उनके मन में देशभक्ति की फिल्म बनाने का विचार आया। अरोड़ा ने बताया कि फिल्म की ज्यदातर शूटिंग भी सेना की नर्सरी कहे जाने वाले झज्जर में करने का फैसला सुहाग के कहने पर लिया गया है। जनरल सुहाग का गांव बिसहान भी झज्जर में है। इस मौके पर डीएच लारेंस स्कूल के निदेशक रमेश रोहिल्ला, यमन रोहिल्ला, बैडमिंटन एसोसिएशन के सचिव मनोज शर्मा और जसवंत देशवाल मौजूद रहे।

X
Click to listen..