बेरी में 800 उपभोक्ताओं की वजह से 3500 घरों में नहीं मिल पा रही 24 घंटे बिजली

Jhajjar News - बेरी में 800 उपभोक्ताओं के चक्कर में 3500 उपभोक्ताओं को कटों की मार झेलनी पड़ रही है। इन कटों के वजह से कस्बे में बिजली...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:30 AM IST
Beri News - haryana news 24 hours of electricity found in 3500 homes due to 800 consumers in beri
बेरी में 800 उपभोक्ताओं के चक्कर में 3500 उपभोक्ताओं को कटों की मार झेलनी पड़ रही है। इन कटों के वजह से कस्बे में बिजली के साथ साथ पेयजल व्यवस्था बुरी तरह चरमराई हुई है। बिजली विभाग का कहना है कि बेरी शहर में 800 उपभोक्ताओं के बिजली मीटर घरों के बाहर लगाना बकाया हैं। उसके बाद बेरी शहर में 24 घंटे बिजली सप्लाई दी जाएगी। ऐसे में उन उपभोक्ताओं का बिजली निगम के प्रति रोष बना हुआ है जिन उपभोक्ताओं के बिजली के मीटर घरों के बाहर हैं, लेकिन उन्हें भी कटों की मार झेलनी पड़ रही हैं। बेरी शहर में कुल 4300 बिजली उपभोक्ता हैं। बिजली निगम ने दिसम्बर 2014 में बिजली के मीटर घरों के बाहर लगाने का कार्य आरंभ किया था। बिजली निगम ने सबसे पहले बेरी बाजार के बाहर मीटर लगाने का कार्य आरंभ किया था बेरी बाजार के दुकानदारों ने बिजली के मीटर की सुरक्षा का कड़ा विरोध किया और रोड जाम भी किया था जब उपभोक्ताओं का कड़ा विरोध हुआ तो उस दौरान बिजली निगम ने बेरी में लाईन लॉस के नाम पर 7 घंटे का कट लगाना आरंभ कर दिया अब 4 साल के दौरान लगभग 3500 उपभोक्ताओं ने बिजली के मीटर घरों के बाहर लगवा लिए हैं।

जिन उपभोक्ताओं ने अपने घरों के बाहर मीटर लगवा लिए हैं और आर्मड केबल लगवा ली हैं उनका कहना हैं कि उन्हें भी कटों की मार झेलनी पड़ रही हैं। वह समय पर बिल अदा करते हैं। अब बिजली निगम ने उन उपभोक्ताओं के खिलाफ सख्ती करना आरंभ कर दिया हैं। जो बिजली के मीटर बाहर लगवाने के का विरोध कर रहे हैं। पिछले माह बेरी में बिजली के मीटर घरों के बाहर लगाने का कड़ा विरोध हुआ था तो बिजली निगम ने सरकारी काम में बाधा डालने का मुकदमा बेरी थाने में दर्ज करवाया था उसके बाद बिजली निगम ने दूसरे मोहल्ले में बिजली के मीटर बाहर लगाने का कार्य आरंभ कर दिया हैं। अब बिजली निगम ने झज्जर एसपी को पत्र लिखकर अधिक फोर्स की मांग की हैं। ताकि एक माह के अंदर सभी घरों के मीटर बाहर लगाकर लाईन लॉस को खत्म करके कटों को बंद किया जाए बिजली निगम के अधिकारियों का कहना हैं कि सरकार की सब्सिडी का लाभ बेरी शहर में 900 उपभोक्ता उठा रहे हैं। क्योंकि 2 हजार उपभोक्ता का आमर्ड केबल का काम बकाया है। जिन उपभोक्ताओं केवाईसी अपडेट हैं। आमर्ड केबल लगी है। और डिफाल्टर नहीं हैं। उन्हें सब्सिडी का लाभ मिलता हैं।

बिजली निगम के एक्सईन एसपी सिंह का तर्क

एक माह के अन्दर मीटर घरों के बाहर लगा दिए जाएंगे उसके बाद कटों को बंद कर दिया जाएगा। बिजली के मीटर बाहर लगाने से पारदर्शिता आ जाएगी। एसपी सिंह, एक्सईन बिजली निगम

बेरी में हर माह 16 लाख यूनिट की खपत

बेरी कस्बे में हर माह लगभग 16 लाख यूनिट की खपत होती है। लेकिन बिल की अदायगी 55 प्रतिशत है। बाहर मीटर लगने के बाद जो यूनिट उपभोक्ता खर्च कर रहा है। उसकी एक रीडिंग आएगी। सबसे अहम बात यह रहेगी कि बिजली चोरी पर पूरी तरह अंकुश लगेगा हमारी लाईन लोसिंग घट जाएगी। विभाग का रेवन्यू बढ़ेगा। चोरी रूकने के बाद फाल्ट कम होंगे। बार बार फ्यूज उड़ने की समस्या से निजाम मिलेगी। हर फीडर से लेकर ट्रांसफार्मर पर लोडिंग पोजिसन ठीक हो जाएगी।

X
Beri News - haryana news 24 hours of electricity found in 3500 homes due to 800 consumers in beri
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना