• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Jhajjar
  • Dulhera News haryana news after the assault nina was killed by two other killers the investigators handed over the investigation to four teams

मारपीट के बाद नीना को एक और दीक्षा को दो गाेली मारी थी हत्यारों ने, जांच का जिम्मा चार टीमों को सौंपा

Jhajjar News - खेड़ी आसरा के डबल मर्डर मामले में पुलिस की जांच आरोपियों की पहचान करने में नाकाम साबित हो रही है। हालांकि पुलिस का...

Aug 05, 2019, 07:40 AM IST
Dulhera News - haryana news after the assault nina was killed by two other killers the investigators handed over the investigation to four teams
खेड़ी आसरा के डबल मर्डर मामले में पुलिस की जांच आरोपियों की पहचान करने में नाकाम साबित हो रही है। हालांकि पुलिस का दावा है कि मामला काफी संवेदनशील है। हत्यारे मृतकों के बेहद करीबी लग रहे हैं। ऐसे में कोई गलत थ्योरी पूरे मामले को बिगाड़ सकती है। जल्द ही बड़ा खुलासा किया जाएगा। वहीं पुलिस ने मृतका 55 वर्षीय नीना और उसकी बेटी 25 वर्षीय दीक्षा का रविवार को बहादुरगढ़ के सरकारी अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि नीना को करीब से सिर में एक गोली व दीक्षा को दो गोलियां मारी गई थी। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने दोनों शव परिजनों के हवाले कर दिए। दूसरी ओर मामले की जांच के लिए पुलिस की चार टीमों को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। झज्जर सीआईए, बहादुरगढ़ सीआईए वन और टू की टीमों के अलावा बादली थाना एसएचओ फुलकुमार की टीम मामले की जांच में लगी है। मामले में शुक्रवार की रात गांव खेड़ी आसरा में 55 वर्षीय नीना देवी और उसकी 25 वर्षीय बेटी दीक्षा की हत्या कर दी गई थी। वारदात के बारे में शनिवार शाम को पता चला। दोनों के शव से बदबू आने लगी थी। इस दौरान दीक्षा का छह माह का बेटा शवों के पास ही रहा। पुलिस ने नीना के बेटे सोमबीर की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है।

मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाते हुए।

रितविक को पिता ले गया अपने साथ, ससुराल में हुआ अंतिम संस्कार

नीना और दीक्षा की मौत के बाद शनिवार रात को ही उनके परिजन गांव खेड़ी आसरा में जुट गए थे। दीक्षा की शादी दिल्ली के रावता गांव में हो रखी थी। देर रात ही दीक्षा के पति दीपक से भी पुलिस का संपर्क हो गया। उसे इस वारदात के बारे में सूचना दी गई। रविवार सुबह वो अपने परिजनों को लेकर बहादुरगढ़ अस्पताल में पहुंचा। पुलिस सूत्रों के अनुसार दीपक ने दीक्षा के परिजनों और गांव खेड़ी आसरा के लोगों को विश्वास दिलाया है कि उसका इस वारदात में कोई हाथ नहीं है। उस पर बेवजह शक किया गया। बाद में ग्रामीणों की सहमति से दीपक के साथ आए उसके परिजन दीक्षा और दीपक के छह माह के बेटे रितविक को भी अपने साथ ले गए।

पुलिस ने आस-पास में खंगाले सीसीटीवी कैमरे

डबल मर्डर मामले में पुलिस ने गांव में अपने मुखबिर तंत्र के सहारे शुक्रवार रात को हुई घटना के बारे में जानकारी जुटानी शुरू कर दी है। गांव के लोगों से पता लगाया जा रहा है कि देर शाम या फिर रात को उन्होंने गांव में किसी अनजान या संदिग्ध शख्स को तो नहीं देखा। इसके अलावा पुलिस ने गांव के ही कुछ घरों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाली है। हालांकि अभी तक पुलिस हत्यारों को लेकर किसी प्रकार के नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। डीएसपी अशोक दहिया के अनुसार डबल मर्डर मामले में कुछ फैक्ट पुलिस के हाथ लगे हैं। मामला काफी संवेदनशील है।

X
Dulhera News - haryana news after the assault nina was killed by two other killers the investigators handed over the investigation to four teams
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना