विज्ञापन

बूंदाबांदी से किसान चिंतित, आज भी बारिश होने की संभावना

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:46 AM IST

Jhajjar News - सोमवार रात से मौसम में बदलाव है। रात को तेज धूल भरी आंधी के बाद मंगलवार को दिनभर बादल छाए रहे। शाम करीब 5 बजे...

Jhajjar News - haryana news farmer worried with drizzling it is likely to rain today
  • comment
सोमवार रात से मौसम में बदलाव है। रात को तेज धूल भरी आंधी के बाद मंगलवार को दिनभर बादल छाए रहे। शाम करीब 5 बजे बूंदाबांदी होने से जहां गर्मी से राहत मिली वहीं, किसान और आढ़तियों की चिंता बढ़ गई। इस बीच गेहूं की कटाई का काम रुक गया। मंडी में खुले में पड़े गेहूं और सरसों को ढकने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ा।

मंगलवार को बादल छाने से दिन के पारे में गिरावट दर्ज की गई। दिन का अधिकतम पारा 31 डिग्री और रात का न्यूनतम पारा 19 डिग्री रहा, जबकि क्षेत्र का अधिकतम औसतन पारा 35 डिग्री व न्यूनतम 20 डिग्री था। पिछले साथ गर्मी अधिक थी। अधिकतम पारा 42 डिग्री व न्यूनतम 25 डिग्री था। बूंदाबांदी होने से ग्रामीण क्षेत्र में गेहूं की कटाई और निकालने का काम रुक गया। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई। मंडी में भी काफी मात्रा में गेहूं खुले में रखा है। आढ़ती और दूसरे लोगों ने जैसे-तैसे गेहूं को बारिश से बचाने के लिए तिरपाल से ढका गया। मौसम विभाग के मुताबिक बुधवार को भी पारा नीचे रहेगा। इस बीच बारिश के साथ तेज हवा चलने की संभावना है। इस कारण अधिकतम पारा 28 डिग्री और न्यूनतम 18 डिग्री रहेगा।

अधिक बारिश हुई तो रुक सकता है कृषि कार्य

मौसक के बदलते मिजाज में बुधवार को बूंदाबांदी की संभावना है। ऐसे में यदि अधिक बारिश होती है, तब किसानों के लिए नुकसान दायक हो सकती है। बूंदाबांदी के कारण वातावरण में नमी बन गई। मंडी जानकारों का कहना है कि मौसम खराब होने से कटाई और गेहूं के निकलने का कार्य प्रभावित हो सकता है। मौजूदा समय में बूंदाबांदी फसलों के लिए खतरनाक है। चूंकि समूचे क्षेत्र में यह काम युद्ध स्तर पर चल रहा है।

बादली में गेहूं कटाई व कढ़ाई का काम प्रभावित

बादली |
क्षेत्र में मंगलवार शाम बूंदाबांदी होने से किसानों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। ऐसे में गेहूं कटाई के काम प्रभावित हो गया। जिन किसानों ने फसल काट ली, है वह तेज हवा के चलते इधर-उधर बिखर गई। इससे किसानों को नुकसान होने की संभावना है। सोमबीर, अनील, कर्मपाल, राकेश, पवन, अश्वनी, धर्मपाल, सुनील कुमार, राजे, श्रीभगवान, संदीप आदि किसानों का कहना है कि गेहूं कटाई अपने चरम पर है। किसान जल्द से जल्द काम को समाप्त करने की ओर बढ़ रहा है। मजदूर न मिलने के कारण किसान पहले ही परेशान है। गेहूं की फसल खेत में पूर्ण रूप से पर तैयार खड़ी है। मजबूर किसान मशीनों का सहारा ले रहा है। मशीनों से कटाई और कढ़ाई का काम होने के बाद गेहूं ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरा खड़ा है। इससे फसल खराब होने का भय है। अनेक किसान ऐसे हैं जिनकी फसल मंडियों में पड़ी हुई है। वहां भी पर्याप्त बरसात से बचाव के उपाय नहीं है।

X
Jhajjar News - haryana news farmer worried with drizzling it is likely to rain today
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन