30 की उम्र के बाद हाइपरटेंशन व डायबिटीज की नियमित जांच कराएं, बीमारी से दूर रहें

Jhajjar News - नागरिक अस्पताल में हाइपरटेंशन के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 17 मई को वर्ल्ड हाइपरटेंशन डे मनाया जाता है।...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:56 AM IST
Jhajjar News - haryana news regular checkup of hypertension and diabetes after the age of 30 stay away from the disease
नागरिक अस्पताल में हाइपरटेंशन के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 17 मई को वर्ल्ड हाइपरटेंशन डे मनाया जाता है। इस खास दिन पर लोगों को हाइपरटेंशन के प्रति जागरुक किया जाता है। हाई ब्लड प्रेशर एक साइलेंट किलर बीमारी है, क्योंकि ज्यादातर लोगों में इसका कोई बाहरी लक्षण या संकेत नहीं दिखता। नियमित सिरदर्द, सांस की तकलीफ, चक्कर आना, अंगों का फड़कना और प्रतिकूल स्थितियों में नाक बहना आदि कुछ ऐसे मामूली लक्षण हैं। जिन पर लोग ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं। हाइपरटेंशन कई कारणों से होता है, जिनमें से कुछ कारण शारीरिक और कुछ मानसिक होते हैं। हाइपरटेंशन में रक्तचाप 140 के पार पहुंच जाता है। सिविल सर्जन डाॅ. अारएस पूनिया ने बताया दुनिया भर में लगभग 1 करोड़ मौतों का कारण उच्च रक्तचाप है। धूम्रपान इस कंडीशन के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक है और इसलिए, जल्द से जल्द इस आदत को छोड़ना अनिवार्य है। इसी प्रकार अनियंत्रित उच्च रक्तचाप से दिल का दौरा या स्ट्रोक, एन्यूरिज्म, दिल की विफलता, अंग की खराबी, दृष्टि हानि, मेटाबोलिक सिंड्रोम और स्मृति से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं।

20 साल बाद धूम्रपान का प्रतिशत बढ़ने के आसार

30 साल की उम्र के बाद हर किसी को हाइपरटेंशन, डायबिटीज या दिल की बीमारी का कोई पारिवारिक इतिहास न होने की स्थिति में भी वार्षिक चेकअप करवाना चाहिए। एक ताजा शोध में बताया गया है कि घर या कार्यस्थल पर एक्टिव स्मोकिंग उच्च रक्तचाप के 13 प्रतिशत बढ़े हुए जोखिम से संबंध रखता है। 20 साल की उम्र के बाद धूम्रपान करने वाले के साथ रहना इसे प्रतिशत को 15 तक बढ़ा सकता है। पैसिव स्मोकिंग के संपर्क में रहने पर समय के साथ उच्च रक्तचाप हो सकता है, जो पुरुषों और महिलाओं को समान रूप से प्रभावित करता है।

इसके बचाव के उपाय : अपने लोअर बीपी, फास्टिंग शुगर, कमर की चौड़ाई, रेस्टिंग हार्ट रेट और कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को 80 से नीचे रखें। प्रतिदिन 80 मिनट टहलें, सप्ताह में कम से कम 80 कदम प्रति मिनट की गति से 80 मिनट तेज चाल चलें। किडनी और फेफड़े की कार्यक्षमता 80 प्रतिशत से अधिक रखें। कम खाना खाना चाहिए, एक भोजन में 80 ग्राम 80 एमएल कैलोरी से अधिक भोजन नहीं लेना चाहिए। साल में 80 दिन रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट न खाएं। 80 साल होने के बाद विटामिन डी लें। शराब न पिएं और अगर पीते हैं काे एक बार में 80 एमएल से ज्यादा न लें। प्रतिदिन प्राणायाम के 80 चक्र 4 श्वास प्रति मिनट की गति से करें। धूम्रपान न करें या हृदय की सर्जरी के लिए तैयार रहें। जीवन भर में 80 बार रक्तदान करें। ध्वनि प्रदूषण के 80 डीबी लेवल के संपर्क में आने से बचें।

X
Jhajjar News - haryana news regular checkup of hypertension and diabetes after the age of 30 stay away from the disease
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना