झज्जर

  • Home
  • Haryana News
  • Jhajjar
  • जीवन को मर्यादित रख कर्मशील रहने की प्रेरणा देती कथा
--Advertisement--

जीवन को मर्यादित रख कर्मशील रहने की प्रेरणा देती कथा

श्रीराम धर्मशाला में चल रही सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का सोमवार को समापन हो गया। इस दौरान शहरवासियों ने...

Danik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
श्रीराम धर्मशाला में चल रही सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का सोमवार को समापन हो गया। इस दौरान शहरवासियों ने कथाव्यास पंडित विमल कृष्ण पाठक की संगीतमयी शैली में कथा का श्रवण कर श्रीमद्भागवत में निहित भगवान कृष्ण के आदर्शों को आत्मसात किया। कथा के अंतिम दिन श्रीकृष्ण सुदामा प्रसंग पर चर्चा करते हुए जीवन जीने की कला को भक्तजनों से सांझा किया। इस अवसर पर मधुर भजनों पर शहरवासी जमकर थिरके। कथा के सप्तम व अंतिम दिन कथाव्यास विमल कृष्ण ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा मानव जीवन को मर्यादित रहने की प्रेरणा देती है। उन्होंने कहा कि श्रीमद्भागवत के के अंतर्गत भगवान श्रीकृष्ण ने मनुष्य को कर्मशील रहते हुए अपने परिवार व समाज को सुखी रहना सिखाया।

िवमल पाठक।

झज्जर. श्रीराम धर्मशाला में चल रही सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा के समापन पर उपस्थित श्रद्धालु

श्रीराम-कृष्ण की प्रेरणा से जीवन बनता सफल

कथाव्यास ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा श्रवण का लाभ तभी है, जब हम इसकी शिक्षाओं को अपने जीवन में प्रायोगिक बनाते हुए हर परिस्थिति में स्वयं को स्थापित करने का प्रण लें। कहा कि आधुनिक युग में बदलते परिवेश में जब घर परिवार टूटने के कगार पर रहते हैं, ऐसे में श्रीमद्भागवत कथा की शिक्षाओं का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। कथाव्यास ने कहा कि श्रीमद्भागवत एवं रामायण स्वयं में एक प्रयोग शास्त्र है, जिसमें हम भगवान श्रीराम और कृष्ण से प्रेरणा लेकर जीवन को सफल बना सकते हैं। इस मौके पर पूर्व मंत्री गीता भुक्कल, नपा चेयरपर्सन कविता नन्दवानी, डॉ. नन्द सरदाना, पूर्व पार्षद टेकचंद गुज्जर, प्रेम पोपली, मानक गुप्ता, जगदीश गेरा, अश्वनी अरोरा, श्याम गेरा, लेखराज गोस्वामी, राजरानी, मंजू खट्टर, मीनू सरदाना, खुशीराम, सुनीता, हर्ष गोस्वामी, राकेश गोयल, बिट्टू चुघ, राधेश्याम भाटिया, उषा भाटिया, फतेह चंद बुद्धिराजा भक्तजन उपस्थित रहे। मंगलवार को मंदिर में पूर्णाहुति के रूप में यज्ञ होगा। इसके बाद महिलाओं को कलश वितरण किया जाएगा। बाद में महिला संकीर्तन भी होगा। इस अवसर पर विशाल भंडारा भी लगाया जाएगा।

Click to listen..