Hindi News »Haryana »Jhajjar» सीएम बोले, मनु अपना खाता चेक करो, डेढ़ करोड़ खाते में पहुंच चुके

सीएम बोले, मनु अपना खाता चेक करो, डेढ़ करोड़ खाते में पहुंच चुके

काॅमनवेल्थ में गोल्ड समेत बीते 40 दिन में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 6 मेडल लाने वाली देश की नई शूटिंग सनसनी झज्जर के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 02:10 AM IST

सीएम बोले, मनु अपना खाता चेक करो, डेढ़ करोड़ खाते में पहुंच चुके
काॅमनवेल्थ में गोल्ड समेत बीते 40 दिन में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 6 मेडल लाने वाली देश की नई शूटिंग सनसनी झज्जर के गोरिया गांव की 16 वर्षीय मनु भाकर सोमवार को अपनों के बीच थी। सुबह से शाम तक हुए अपने सम्मान समारोह से गदगद मनु बोली कि उसका अगला लक्ष्य ओलंपिक में गोल्ड लाना है। आप इसी तरह प्यार देते रहिए, मैं देश की उम्मीदों पर खरा उतरूंगी। इस मौके पर सीएम मनोहर लाल ने कहा कि मनु को जो चेक का प्रतीक दिया है वो कोई लकड़ी-गत्ता ही नहीं है। मनु के खाते में रकम पहुंच गई है। उन्होंने मनु भाकर को अपना खाता चैक करने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने बताया कि आपके खाते में विभाग की ओर से डेढ़ करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर हो चुकी है। अपना खाता चैक कर लो। सीएम ने स्वर्ण पदक विजेता बजरंग पूनिया व कांस्य पदक विजेता सोमवीर के परिजनों को भी किया सम्मानित किया। मनु का सम्मान सुबह उसके गांव के स्कूल यूनिवर्सल में किया गया। यहां सांसद दीपेंद्र हुड्डा, विधायक गीता भुक्कल, नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला व जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने मनु के उज्जवल भविष्य की कामना की।

एक लाख 51 हजार का चेक देकर किया सम्मान

मनु के गांव और स्कूल में आने पर बच्चों व युवाओं ने सेल्फी ली व उससे हाथ मिलाया। गोरिया में सम्मान समारोह के दौरान गोरिया की ग्राम पंचायत ने मनु को 1 लाख 51 हजार रुपए का चेक देकर सम्मानित किया।

झज्जर. गोल्ड मेडल विजेता मनु को डेढ़ करोड़ रुपए का चेक देने के बाद विजेता होने पर बधाई देते सीएम और अन्य।

नई खेल नीति में छोटे खिलाड़ियों

को भी मिलेगी नौकरी : सीएम

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि राज्य सरकार की नई खेल नीति में छोटे से छोटा खिलाड़ी भी नौकरी से वंचित नहीं रहेगा। खिलाड़ियों के लिए एचसीएस/एचपीएस से लेकर ग्रुप डी तक की भर्तियों में आरक्षण का प्रावधान किया जा रहा है। राजकीय नेहरू स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में कॉमनवेल्थ गेम्स मेें पदक विजेता खिलाड़ी और उनके परिजनों को सम्मानित करने के बाद उन्होंने कहा कि कॉमनवेल्थ गेम में देश की दो प्रतिशत आबादी वाले हरियाणा ने 33 प्रतिशत मेडल हासिल कर देश का मान बढ़ाया है। इस दौरान खेल विभाग के निदेशक जगदीप सिंह आिद प्रबुद्ध लोग रहे।

सांसद ने की गांव में शूटिंग रेंज खोलने की मांग

सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा और गीता भुक्कल ने गोरिया पहुंचने पर मनु को शुभकामनाएं देते आशीर्वाद दिया। मनु के माता-पिता ने सांसद का धन्यवाद अदा किया। सांसद ने कहा कि मुझे विश्वास है कि 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक में फिर मनु इतिहास बनाएगी। साथ ही सांसद ने मनु भाकर को 21 लाख रुपए सम्मान स्वरूप अंतरराष्ट्रीय शूटिंग रेंज के लिए देने की घोषणा की। सांसद ने बताया कि उन्होंने खुद केन्द्रीय खेल मंत्री कर्नल राज्य वर्धन सिंह राठौर से मिलकर गोरिया में अंतरराष्ट्रीय शूटिंग रेंज खोलने की मांग रखी है।

सरकार ने शूटिंग रेंज नहीं बनाई तो मैं बनवाऊंगा: अभय

अभय सिंह चौटाला ने मनु भाकर का पगड़ी बांधकर सम्मान किया। कहा कि कि हम प्रदेश सरकार से गांव गोरिया में 25 मीटर शूटिंग रेज के निर्माण की मांग करेंगे। अगर सरकार शूटिंग रेज नहीं बनाती है तो हम प्राइवेट पार्टी से शूटिंग रेज का निर्माण कराएंगे।

झज्जर. नेहरू काॅलेज के सभागार में महिला सशक्तीकरण को समर्पित प्रोजेक्ट जागृति योजना की लांचिंग करते सीएम।

लैंगिक असमानता दूर करने के लिए जागृति प्रोजेक्ट का शुभारंभ

महिला अपराध रोकेगी दुर्गाशक्ति वाहिनी फोर्स

झज्जर | हरियाणा में बेटियों को शिक्षण संस्थान तक मुफ्त परिवहन सेवा उपलब्ध कराने का जिम्मा सरकार का रहेगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को झज्जर में छात्रा परिवहन सुरक्षा योजना की घोषणा करते हुए कहा कि चाहे किसी शिक्षण संस्थान में पांच छात्राएं ही मांग क्यों न करे। उनके अनुरूप आटो से लेकर बस तक की परिवहन सेवा सरकार की ओर से निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री झज्जर के राजकीय नेहरू स्नातकोत्तर महाविद्यालय सभागार में लैंगिक असमानता को दूर करने के लिए विशेष तैयार किए गए प्रोजेक्ट जागृति का शुभारंभ करने पहुंचे थे। जागृति प्रोजेक्ट का भी मुख्य उद्देश्य यही है कि बेटियां सार्वजनिक स्थल, कार्यस्थल और आवागमन में स्वयं को सुरक्षित महसूस करें।

(संबंधित खबर पेज 4 पर)

गांव नहीं आने पर मनु के पिता ने जताई सीएम से नाराजगी

काॅमनवेल्थ गेम में मेडल विजेता खिलाड़ियों और उनके परिजनों का सम्मान करने सोमवार को राजकीय नेहरू काॅलेज पहुंचे सीएम मनोहरलाल खट्टर के समक्ष खिलाड़ियों के परिजन अपनी बात रखने से भी नहीं चूके। गोल्डन गर्ल मनु भाकर के पिता ने सीएम से नाराजगी जताई कि आप मनु का सम्मान करने गांव नहीं आए। वहीं दूबलधन के पहलवान सोमवीर की मां ने सम्मान ने लेने के बाद सीएम से पूछा कि वो मेरे बेटे को नौकरी कब देंगे।

सोमवीर की मां बोली, हर बार नौकरी का मिलता है भरोसा

कामनवेल्थ गेम में ब्रांज मेडल जीतने वाले बेरी के दूबलधन गांव निवासी पहलवान सोमवीर की मां सुनीला देवी ने भी सीएम मनोहर लाल खट्टर से कहा कि आपने सभी खिलाड़ियों को नौकरी दे दी मेरा बेटा भी अच्छा खेल रहा है। 12 बार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए खेल चुका है, उसे कब नौकरी मिलेगी। तब सीएम ने कहा कि अभी खेल नीति में बदलाव हुआ है। उन्होंने सोमवीर को भी नौकरी दिलाने का दिया।

पहलवान बजरंग के पिता ने माना सीएम का आभार

कामनवेल्थ गेम में गोल्ड जीतने वाले पहलवान बजरंग पूनिया के पिता बलवान सिंह भी सीएम से सम्मान लेने आए। बलवान ने सीएम के समक्ष खेल नीति के तहत और अच्छी योजनाएं शुरू करने की बात कही, ताकि खिलाड़ियों को हौंसला बढ़ता रहे। सीएम ने बजरंग के पिता से कहा कि बजरंग की भी इनाम की राशि डेढ़ करोड़ रुपए स्टेट लेवल पर होने वाले सम्मान समारोह में दी जाएगी। बताया गया कि बजरंग 26अप्रैल को स्वदेश लौटेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jhajjar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×