• Home
  • Haryana News
  • Jhajjar
  • मंडी में गेहूं की भारी आवक, आसमान में बादल छाने से आढ़ती व किसान चिंतित
--Advertisement--

मंडी में गेहूं की भारी आवक, आसमान में बादल छाने से आढ़ती व किसान चिंतित

अनाज मंडी में गेहूं की भारी आवक हो रही है, पर सोमवार शाम पांच बजे किसानों व आढ़ती उस समय चिंतित हो गए जब धूल भरी आंधी...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 02:10 AM IST
अनाज मंडी में गेहूं की भारी आवक हो रही है, पर सोमवार शाम पांच बजे किसानों व आढ़ती उस समय चिंतित हो गए जब धूल भरी आंधी के बीच अचानक आसमान में काले बादल छा गए। पिछले 15 दिनों से जिले की मंडियों में गेहूं की आवक हो रही है। लेकिन बीच में बूंदाबांदी और बारिश के कारण कई दिन का काम प्रभावित रहा। इस बीच कुछ गेहूं खराब भी हुआ, जिसके कारण अब आढ़ती और किसानों को नुकसान हुआ। गोदाम के अंदर खराब गेहूं आने की संभावना बढ़ गई। आननफानन में गेहूं के खुल्ले स्टाक को त्रिपाल से ढकना शुरू किया। इस बीच जो कट्टे पैक हो चुके थे, उनको उठाकर एक ओर चट्टों में लगाने का काम शुरू किया। गेहूं को सुरक्षित रखने के लिए आढ़तियों ने अपनी तमाम लेबर को पैकिंग से हटाकर केवल गेहूं सुरक्षित करने में लगाया।

मूल गिरदावरी रिपोर्ट की मांग के कारण नहीं हो सका काम

सोमवार से सरसों की खरीद कार्य खाद्य और आपूर्ति विभाग की ओर से शुरू किया जाना था, लेकिन यह कार्य दोपहर बाद ही शुरू हो सका। किसान रवेंद्र कुमार ने बताया कि मौसम खराब होने से मंडी में कई दिनों से गेहूं की परचेज रुकी थी, लेकिन सोमवार को मूल गिरदावरी रिपोर्ट की मांग के कारण यह कार्य दोपहर तक नहीं हो सका। वहीं दूसरी ओर हैफेड का कहना है कि अब कोऑपरेटिव सोसायटी के माध्यम से भी जो सरसों खरीद की जाएंगी, उसके मामले में भी किसानों को मूल गिरदावरी रिपोर्ट लेकर आनी होगी। मैनेजर कपिल का कहना है कि 10 अप्रैल तक क्षेत्र में फसलों की गिरदावरी रिपोर्ट पूरी हो चुकी है,ऐसे में अब मूल प्रति के साथ ही एक निश्चित मात्रा में सरसों की खरीद होगी।