• Hindi News
  • Haryana
  • Jind
  • जानी चोर सांग में दिखी मौला, चौपाई, गायन के साथ लोक कला की छटा
--Advertisement--

जानी चोर सांग में दिखी मौला, चौपाई, गायन के साथ लोक कला की छटा

Jind News - दीवान बाल कृष्ण रंगशाला में जिला सांस्कृति समन्वय समिति द्वारा सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। हिसार की...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:20 AM IST
जानी चोर सांग में दिखी मौला, चौपाई, गायन के साथ लोक कला की छटा
दीवान बाल कृष्ण रंगशाला में जिला सांस्कृति समन्वय समिति द्वारा सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। हिसार की स्वॉग फॉक आर्ट अकादमी के कलाकारों ने जानी चोर की कथा को पात्र अभिनय के माध्यम से जीवंत कर दिया।

प्रो. संध्या शर्मा व प्रो. सतीश कश्यप ने सांग की पुरानी परंपराओं को बखूबी तरीके से रखा। चमौला, चौपाई, गायन के साथ-साथ इसमें आधुनिक लोक कला की छटा भी देखने को मिली। कई बार सांग में हिंदी व अंग्रेजी के शब्दों से लोक संस्कृति देखने को मिली। लगभग 2 घंटे चले इस सांग कार्यक्रम में जींद के दर्शकों ने खूब लुत्फ उठाया। जानी चोर और अदली खां पठान की संवाद शैली ने दर्शकों को कई बार गंभीर मुद्रा में पहुंचाया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के निजी सचिव राजेश गोयल ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मनोरंजन हमारी समृद्ध लोक संस्कृति को सहेज कर रखने की प्रेरणा देते हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता एडीसी विक्रम ने की। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से इस प्रकार के कार्यक्रम काफी प्रेरणादायी रहते हैं। सांग के निर्देशक प्रो. सतीश कश्यप व प्रो. संध्या शर्मा ने कहा कि हरियाणा की लोक संस्कृति में सांग विधा का अपना स्थान है।

सांग का मंचन

दीवान बाल कृष्ण रंगशाला में हुई सांस्कृतिक संध्या



जींद. रंगशाला में आयोजित नाटक में प्रस्तुति देते कलाकार।

X
जानी चोर सांग में दिखी मौला, चौपाई, गायन के साथ लोक कला की छटा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..