• Hindi News
  • Haryana
  • Jind
  • Jind News haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
विज्ञापन

आंधी और बारिश से बिजली गुल, मंडी में भीगा 15 हजार क्विंटल गेहूं

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:50 AM IST

Jind News - सोमवार देर रात को आई तेज आंधी से जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया। इससे 33 व 11 केवीए के 51 फीडर ब्रेक डाउन हो गए।...

Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
  • comment
सोमवार देर रात को आई तेज आंधी से जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया। इससे 33 व 11 केवीए के 51 फीडर ब्रेक डाउन हो गए। इसके कारण शहरी व ग्रामीण क्षेत्र की बिजली सप्लाई बाधित हो गई। कई जगह तो पूरी रात ही बिजली नहीं आई। इसके कारण लोगों को गर्मी व मच्छरों से परेशान होना पड़ा। वहीं शाम तक सर्कल के कंप्लेंट सेंटर पर 110 से ज्यादा शिकायतें पहुंच गई। शिकायत आने पर निगम कर्मचारी भी जिले में बिजली सप्लाई सुचारू करवाने में जुटे रहे। हालांकि कई जगह रात को आंधी के तीन-चार घंटे बाद बिजली आ गई थी, लेकिन कई जगह तो बार-बार फ्यूज उड़ने से बिजली सप्लाई बहाल नहीं हो पाई।

तेज आंधी से बठिंडा जंक्शन के पास एक पेड़ ट्रैक पर गिर गया, जिसके कारण रेल यातायात बाधित हो गए। इससे सुबह के समय दिल्ली की ओर जाने वाली चार एक्सप्रेस ट्रेनें प्रभावित हो गईं। रात को ढाई बजे जींद पहुंचने वाली पंजाब मेल सुबह साढ़े आठ बजे जींद पहुंची। वहीं छिंदवाड़ा इंटरसिटी, जनता एक्सप्रेस व अवध-असम एक्सप्रेस भी अपने निर्धारित समय से काफी लेट जींद जंक्शन पहुंची। इससे कार्यालय में जाने वाले व दैनिक यात्रियों को कई-कई घंटे ट्रेनों के आने का इंतजार करना पड़ा।

बिछाई गई मोटी केबल में घुसा बरसात का पानी, कैथल रोड 11 केवीए के बार-बार उड़े फ्यूज

कर्मचारी फ्यूज जोड़ते रहे, बार-बार उड़ता रहा

कैथल रोड पर रात 11 बजकर 50 मिनट पर आंधी आने से फ्यूज उड़ गया। वहां के लोगों ने इसकी शिकायत कंप्लेंट सेंटर पर की। उसके बाद बिजली कर्मचारियों ने मौके पर जाकर फ्यूज लगा दिया, लेकिन थोड़ी ही देर बाद फिर फ्यूज उड़ गया। इससे कैथल रोड की कॉलोनियों में दोबारा फिर बिजली चली गई। इसके बाद सुबह कर्मचारियों ने फ्यूज लगाया तो दोबारा फिर फ्यूज उड़ गया। बार-बार फ्यूज उड़ने का कारण वहां बिछाई गई मोटी केबल में बारिश का पानी घुसना था।

इन कॉलोनियों की रही बिजली सप्लाई बाधित

देर रात को आई तेज आंधी से शहर की कई कॉलोनियों में लगे ट्रांसफार्मर के लॉ टेंशन (एलटी) व हाईटेंशन (एचटी) फ्यूज उड़ गए। इसके कारण शहर की कई कॉलोनियों में बिजली गुल हो गई वहीं कई जगह फीडर भी ब्रेक डाउन हो गए। इससे पटियाला चौक के साथ लगते पटेल नगर, संतनगर, खटीक माेहल्ला, श्यामनगर, कैथल रोड, नरवाना रोड, सफीदों गेट, खेतों का एरिया, ग्रामीण क्षेत्र व नहर के आसपास एरिया में 3-4 घंटे बिजली बाधित रही।

जींद. अनाज मंडी में बारिश में भीगे गेहंू के बैग। फोटो |भास्कर

खेत से लेकर मंडी तक कामकाज ठप : खरीद के साथ कटाई कार्य भी बाधित, आज भी हो सकती है बारिश

जींद | जिलेभर में सोमवार रात को आई तेज आंधी व बारिश से गेहूं की फसल को नुकसान हुआ है। बारिश के कारण जींद अनाज मंडी में करीब 15 हजार क्विंटल गेहूं भीग गया है। इसके अलावा खेतों में भी तेज आंधी के कारण फसल जमीन पर लेट गई और उससे कटाई-कढ़ाई का कार्य ठप हो गया है। गेहूं के भीगने के कारण मंडी में मंगलवार को गेहूं खरीद कार्य भी प्रभावित हुआ है। शाम तक मंडी में सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा गेहूं की खरीद शुरू नहीं हो पाई थी। मौसम के बदले मिजाज से किसानों की परेशानी बढ़ गई है। सोमवार रात को करीब 10 बजे करीब दो घंटे तक आंधी का दौरा चला। इसके बाद कुछ जगहों पर बूंदाबांदी हुई। जींद शहर में इस दौरान हल्की बारिश हुई। बारिश के कारण अनाज मंडी में सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा खरीदे गए गेहूं के बैग व किसानों द्वारा बेचने के लाई गई फसल भीग गई। उधर, मौमस विशेषज्ञों का कहना है कि बुधवार को भी कहीं-कहीं बारिश व आंधी आने की संभावना है। मंगलवार को दिनभर बादल छाए रहे।

जींद. आंधी आने से शहर में एक जगह टूटे तार को जोड़ता बिजलीकर्मी।

मंगलवार को नहीं हुई गेहूं की आवक

मार्केट कमेटी सचिव पवन चाेपड़ा का कहना है कि हल्की बारिश से गेहूं भीगा है, लेकिन इससे फसल खराब नहीं होगी। खराब मौसम के कारण मंडी में गेहूं की आवक मंगलवार को नहीं हुई। खरीद कार्य भी प्रभावित हुआ है।

ये पावर हाउस रहे बंद

33 केवीए बधाना 3 घंटे

33 केवीए नगूरां 5 घंटे

33 केवीएम पीपलथा 2 घंटे

33 केवीए श्रीरागखेड़ा 7 घंटे

33 केवीए रसीदां 2:30 घंटे

33 केवीए काकड़ोद 2 घंटे

33 केवीए छातर 4 घंटे

33 केवीए शामदो 3 घंटे

33 केवीए उचाना 2 घंटे

खरीद एजेंसियों ने गेहूं को गीला बताकर खरीदने से किया मना

अलेवा | क्षेत्र में सोमवार देर रात को तेज अधड़ के बाद अाई बारिश। बारिश के कारण अनाज मंडी में बेचने के लिए लाई गई गेहूं भीग गया। इसके साथ-साथ गेहूं की कटाई का कार्य प्रभावित हो गया है। वहीं बिजली लाइनों में आए फाॅल्ट से अलेवा पावर हाऊस से जुड़े बिघाना, कटवाल व अलेवा की बिजली सप्लाई रातभर बंद रही। बिजली निगम के कर्मचारियों द्वारा मंगलवार को सुबह फाॅल्ट ठीक कर बिजली सप्लाई बहाल की गई। किसान राधेश्याम, बलवान, साधुराम, दीपक, सतीश, पवन, राजकुमार व राजबीर ने बताया कि उनकी गेहूं कई दिनों से अनाज मंडी में पड़ी है। खरीद एजेंसियों ने गेहूं को गीला बताकर खरीदने से मना किया हुआ है। सोमवार देर रात को आई बारिश ने उनकी गेहूं को भीगो दिया है। अब गेहूं को सूखने में कई दिन ओर लगेंगे।

चार महीने पहले बनाई सड़कों से पानी निकासी व्यवस्था नहीं, 2 एमएम बारिश में हुआ जलभराव

अर्बन एस्टेट की सड़कों का गांव की गलियों से भी बुरा हाल, आवागमन में हो रही परेशानी

भास्कर न्यूज | जींद

शहर के पॉश एरिया अर्बन एस्टेट की सड़कों का हाल इस समय गांव की गलियों से भी बुरा है। नगर परिषद द्वारा करीब 4 माह से जिन सड़कों का निर्माण कार्य किया जा रहा है, उनसे पानी निकासी की कोई भी व्यवस्था नहीं है।

सोमवार रात हुई 2 एमएम बारिश से ही अर्बन एस्टेट की कई सड़कों पर पानी भर गया। मंगलवार को सुबह लोग उठे तो बारिश का पानी दरवाजे तक पहुंचा था। इस पर लोगों ने नगर परिषद के खिलाफ रोष जताया और पानी निकासी की समुचित व्यवस्था करने की मांग की।

अर्बन एस्टेट के विभिन्न ब्लॉक में इन दिनों नगरपरिषद द्वारा खस्ताहाल सड़कों को उखाड़ कर पेयर ब्लॉक से सड़कें बनाने का काम चल रहा है। करीब साढ़े 14 करोड़ रुपए की लागत से सड़कों के चल रहे इस निर्माण कार्य के दौरान नगर परिषद द्वारा सड़कें तो बनाई जा रही हैंं लेकिन बारिश की पानी निकासी के लिए कोई भी व्यवस्था नहीं की जा रही। इससे थोड़ी सी बारिश में ही अर्बन एस्टेट की कई सड़कों पर पानी भर जाता है। निकासी न होने के कारण पानी कई-कई दिन तक सड़क पर भरा रहता है। इससे अर्बन एस्टेट वासियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

आंधी से कई फीडरों पर पड़ा असर, बिजली हुई गुल


ट्रैक पर पेड़ गिरने से ये ट्रेनें हुईं लेट



अलेवा. अनाज मंडी में बारिश के पानी से बचाव के लिए गेहूं की ढेरियों पर डाली गई तिरपाल।

जींद. अर्बन एस्टेट की सड़क पर भरा बारिश का पानी, जिससे आवागमन में हो रही परेशानी।

लोगों ने जताया रोष- बिना लेवलिंग सड़कें बनाने का आरोप

अर्बन एस्टेट की सड़कों पर थोड़ी सी बारिश में ही भरे पानी पर मंगलवार सुबह लोगों ने एकत्र होकर रोष जताया। अर्बन एस्टेट निवासी रामकुमार, वजीर सिंह, अभिषेक महिला धनपती, किताबो देवी, स्नेह, सुनीता देवी आदि का कहना था कि पिछले दिनों जो सड़कें बनाई गई हैं वे बिना लेवलिंग के बनाई गई हैं। बारिश के पानी की निकासी के लिए कोई भी व्यवस्था नहीं की गई। अब हुई थोड़ी सी बारिश में ही सड़क तालाब बन गई है। मानसून के सीजन में और भी बुरा हाल हो जाएगा। बारिश का पानी उनके दरवाजे तक पहुंच रहा है और निकासी न होने से यह कई-कई दिन तक भरा रहता है। इसमें मच्छर पनपने और बीमारियां फैलने का खतरा है। लोगों ने इस पर प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है।

नरवाना. बरसात से भीगा मंडी में रखा गेहूं।

गेहूं सूखने और खरीद होने के लिए किसानों को करना पड़ेगा इंतजार

भास्कर न्यूज | नरवाना

गेहूं की कटाई शुरू होते ही मंडियों में आवक तेज हो गई है। सोमवार रात को हुई बरसात से अनाज मंडी में खरीद के लिए पड़ा गेहूं भीग गया। इसके कारण गेहूं में नमी बढ़ गई और अब गेहूं की खरीद होने के लिए किसानों को ज्यादा दिन तक इंतजार करना होगा। वहीं टूटी सड़क से भी किसानों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जहां किसानों के ट्रैक्टर धंस रहे हैं, वहीं जाम की स्थिति मंडी में बन रही है।

किसान सेवा, रामदिया, बलकार, विकास, बलवान ने बताया कि यह बरसात गेहूं की फसल को बर्बाद करने वाली साबित हो सकती है। क्योंकि इस समय किसानों की गेहूं खेतों में पका खड़ी हैं। ऐसे में बरसात और आंधी तूफान आते हैं तो किसान की रोजी को खतरा हो सकता है। नरवाना के मार्केट कमेटी सचिव ओमप्रकाश जांगड़ा का कहना है कि

गेहूं के सीजन के चलते मंडी में किसानों के लिए सभी सुविधाएं दुरुस्त हैं। बिजली, पानी के पुख्ता प्रबंध विभाग द्वारा करवाए गए हैं। मंडी में दो धर्म कांटे भी लगाए गए हैं। अन्य कोई समस्या है तो प्रशासन उसे दूर करने के लिए तत्पर है।

जेई और एमई से करवाएंगे चेक


ड्रेनेज सिस्टम हुडा के हवाले


Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
  • comment
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
  • comment
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
  • comment
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
  • comment
X
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
Jind News - haryana news lightning from rainstorm and rain 15 thousand quintals of wheat in the mandi
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन