• Hindi News
  • Rajya
  • Haryana
  • Jind
  • Jind News haryana news the inquiry committee recommended action against 2 employees and vigilance investigation of the case

जांच कमेटी ने 2 कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई और मामले की विजिलेंस जांच की सिफारिश की

Jind News - सिविल अस्पताल के ओएसटी (ओपीयोड सबस्टीच्यूट थैरेपी) सेंटर पर मेडिकल नशा छोड़ने के लिए दी जाने वाली सरकारी दवा के...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:55 AM IST
Jind News - haryana news the inquiry committee recommended action against 2 employees and vigilance investigation of the case
सिविल अस्पताल के ओएसटी (ओपीयोड सबस्टीच्यूट थैरेपी) सेंटर पर मेडिकल नशा छोड़ने के लिए दी जाने वाली सरकारी दवा के पैसों में बेचने के मामले में गठित 3 सदस्यीय जांच कमेटी ने गुरुवार को सिविल सर्जन को रिपोर्ट सौंप दी है। सूत्रों के अनुसार जांच कमेटी ने मामले में जिन दो कर्मचारियों पर सरकारी दवा बेचने के आरोप लगे हैं। उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने व मामले की विजिलेंस से जांच करवाने की सिफारिश की है।

जांच कमेटी रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि सरकारी दवा मरीजों को बेची गई है। अब मामले में सिविल सर्जन द्वारा कार्रवाई की जाएगी। सरकारी दवा बेचने में और भी लोग हो सकते हैं शामिल दर्ज हो सकती है एफआईआर, नौकरी से बर्खास्तगी भी संभव सरकारी दवा के पैसे में बेचने के मामले की जांच रिपोर्ट आने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग इस मामले में कड़ी कार्रवाई कर सकता है। इस दौरान कर्मचारियों पर विभाग एफआईआर व नौकरी से बर्खास्त भी कर सकता है। क्योंकि मामला अत्यंत गंभीर है।

जांच कमेटी ने सिविल सर्जन को सौंपी रिपोर्ट

भास्कर फाॅलोअप

15 मई को छपी खबर

दैनिक भास्कर ने किया था मामले को उजागर

ओएसटी सेंटर पर मेडिकल नशा छोड़ने के लिए दवा लेने आ रहे मरीजों को पैसे में सरकारी दवा बेचे जाने के मामले को लेकर दैनिक भास्कर ने 15 मई के अंक में जिन पर नशा छोड़ने की जिम्मेदारी वे ही पैसों में बेच रहे सरकारी दवा नामक शीर्षक से समाचार प्रकाशित कर मामले को उठाया गया था।

जांच रिपोर्ट अभी उन्होंने पढ़ी नहीं है : सीएमओ


X
Jind News - haryana news the inquiry committee recommended action against 2 employees and vigilance investigation of the case
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना