• Home
  • Haryana News
  • Jind
  • सांसद कौशिक का आश्वासन, भाखड़ा से पानी लाकर करेंगे शहर की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान
--Advertisement--

सांसद कौशिक का आश्वासन, भाखड़ा से पानी लाकर करेंगे शहर की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान

शहर के पेयजल समस्या का मुद्दा बुधवार को नगर परिषद हाऊस की बैठक में भी उठा। इसमें हिस्सा ले रहे सांसद रमेश कौशिक ने...

Danik Bhaskar | May 03, 2018, 02:35 AM IST
शहर के पेयजल समस्या का मुद्दा बुधवार को नगर परिषद हाऊस की बैठक में भी उठा। इसमें हिस्सा ले रहे सांसद रमेश कौशिक ने पार्षदों को आश्वासन दिया कि शहर की पेयजल समस्या का भाखड़ा से पानी लाकर स्थाई समाधान किया जाएगा।

शहर को पेयजल आपूर्ति करवाने के लिए आस-पास के तीन गांवों में लगभग 90 एकड़ जमीन चिह्नित की गई है। जहां जल संग्रहण के लिए बड़े-बड़े जलघर बनाए जाएंगे। बैठक की अध्यक्षता प्रधान पूनम सैनी ने की और ईओ अमन ढांडा समेत 20 पार्षदों ने बैठक में हिस्सा लिया। मनोनीत तीन पार्षद भी बैठक में उपस्थित रहे लेकिन विरोधी खेमे के एक भी पार्षद ने बैठक में हिस्सा नहीं लिया। नगरपरिषद बैठक में शहर में रेलवे लाइन के साथ-साथ खाली पड़ी जमीन पर पांच जगहों पर 6 करोड़ से पांच पार्क बनाने के प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास कर दिया। इसके अलाचा कूड़ा कलेक्शन के लिए पांच टाटा ऐसे गाड़ी खरीदने का प्रस्ताव भी सर्वसम्मति से पास हुआ।

शहर में नहीं रहने देंगे कोई गली कच्ची

बैठक में सांसद ने कहा कि जींद शहर की कोई भी गली कच्ची नहीं रहने दी जाएगी। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देश दिए कि दिसंबर तक सभी कच्ची गलियों को पक्का करवाएं। इस कार्य के लिए पैसे की कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी। सांसद ने बताया कि जींद-हांसी रेलवे लाइन का सर्वे का काम पूरा। इस साल के आखिर तक इसका निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

जींद. नप की बैठक में सांसद रमेश कौशिक, प्रधान पूनम सैनी व ईओ।

जींद. नगरपरिषद हाऊस की बैठक में मौजूद पार्षद।

शहर के विकास को लेकर विरोधी पार्षद गंभीर नहीं

नगर परिषद प्रधान पूनम सैनी का कहना है कि बुधवार को हुई बैठक शहर के विकास को लेकर थी, लेकिन इस बैठक में विरोधी पार्षदों ने हिस्सा नहीं लिया। क्योंकि ये पार्षद शहर के विकास को लेकर गंभीर नहीं है।