Home | Haryana | Kadma | अध्यात्म से सकारात्मक सोच होती है विकसित: डाॅ. भावना

अध्यात्म से सकारात्मक सोच होती है विकसित: डाॅ. भावना

झोझूकलां में ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय कादमा में शिवरात्री महोत्सव के दौरान प्रस्तुत की गई झांकी के...

Bhaskar News Network| Last Modified - Feb 05, 2018, 02:25 AM IST

अध्यात्म से सकारात्मक सोच होती है विकसित: डाॅ. भावना
अध्यात्म से सकारात्मक सोच होती है विकसित: डाॅ. भावना
झोझूकलां में ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय कादमा में शिवरात्री महोत्सव के दौरान प्रस्तुत की गई झांकी के साथ संस्था सदस्य।

कादमा में महाशिवरात्री महोत्सव संपन्न

भास्कर न्यूज| झोझू कलां

प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की कादमा शाखा के तत्वावधान में झोझू कलां में आयोजित किया जा रहा महाशिव रात्रि महोत्सव विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ संपन्न किया गया। इस दौरान नागपुर से पधारे प्रसिद्ध गायक राजयोगी अविनाश भाई ने गीत व संगीत के माध्यम से परमात्मा शिव का गुणगान किया। समापन दिवस आरंभ उपस्थित सैकड़ों भाई बहनों ने एक साथ दीप प्रज्ज्वलित कर किया। सरपंच दलबीर गांधी ने कहा कि ब्रह्मकुमारीज संस्था जो नैतिक व मानवीय मूल्यों को समाज में फैलाने का कार्य कर रही है वह वास्तव में अदभुत है। इससे अवश्य ही हमारा समाज मुल्याधारित बनेगा। मुख्य अतिथि समाज सेवी डाॅ. भावना ने कहा कि अध्यात्म से ही मानव का मानसिक विकास होता है व सकारात्मक सोच विकसित होती है। ब्रह्माकुमारी बहनों का त्याग, गांव गांव तक परमात्मा शिव का संदेश जरूर हमारे गांवों को गोकुल बनाएगा। मुख्य वक्ता राजयोगिनी उर्मिला बहन ने कहा कि आज धन कमाने के साथ चारित्रिक मूल्यों को जीवन में धारण करने की आवश्यकता है जिससे भारत पुन विश्व का सिरमौर बनेगा। आयोजन में राधा कृष्ण नृत्य, शिव भोला भंडारी गीत के साथ शिव शक्ति दर्शन में मां दुर्गा का आहवान किया गया। कादमा सेवा केंद्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी बहन ने सभी का स्वागत किया।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now