• Home
  • Haryana News
  • Kadma
  • पीएम नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के दो आरोप, पद छोड़ने से इनकार
--Advertisement--

पीएम नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के दो आरोप, पद छोड़ने से इनकार

इजरायल में अगले साल चुनावों से पहले पुलिस ने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के दो मामलों में...

Danik Bhaskar | Feb 15, 2018, 02:30 AM IST
इजरायल में अगले साल चुनावों से पहले पुलिस ने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के दो मामलों में मुकदमा चलाने की सिफारिश की है। पुलिस ने कहा है कि नेतन्याहू पर रिश्वत लेने, धोखाधड़ी करने और भरोसा तोड़ने के आरोपों में मुकदमा चलाया जाना चाहिए। नेतन्याहू पर 19.23 करोड़ रुपए के महंगे उपहार लेने का आरोप है।

आरोप लगने के बाद नेतन्याहू ने इजरायली टीवी में जारी बयान में कहा कि आरोप बेबुनियाद हैं और वे इस्तीफा नहीं देंगे। इजरायल के कानून मंत्री ने कहा है कि पीएम पर जिन मामलों में आरोप लगे हैं, उनमें इस्तीफा देने की बाध्यता नहीं है। नेतन्याहू से पुलिस अब तक 7 बार पूछताछ कर चुकी है। 68 वर्षीय नेतन्याहू दूसरी बार प्रधानमंत्री बने हैं और वे 2009 से इस पद पर हैं। 1996 से 1999 तक वे पहली बार पीएम बने रहे। इजरायल के कानून के अनुसार पीएम को आरोपी बनाकर मुकदमा चलाने की जिम्मेदारी अटॉर्नी जनरल कार्यालय की है।

महंगे उपहार के बदले वीसा दिलाने का आरोप

पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार इजरायली नागरिक और हॉलीवुड प्रोड्यूसर एर्नोन मिलचैन और ऑस्ट्रेलियाई नागरिक जेम्स पैकर ने 2007 से 2016 तक नेतन्याहू और उनके परिवार को पिछले 10 सालों में 19.23 करोड़ रुपए के गिफ्ट दिए। इनमें कीमती शैंपेन, सिगार और आभूषण शामिल हैं। आरोप है कि मिलचैन ने अमेरिकी वीसा हासिल करने में मदद के बदले ये तोहफे दिए। मिलचैन ने तोहफों के बदले नेतन्याहू पर एक कानून बनाने का भी दबाव बनाया, जिसमें दूसरे देशों से वापस लौटे इजरायली नागरिकों को टैक्स में 10 साल तक की छूट दिए जाने का प्रावधान है। पीएम नेतन्याहू पर इजरायली अखबार ‘येदिओथ अहरोनोथ’ के मालिक एर्नोन मोजेस से अपने पक्ष में कवरेज के लिए सीक्रेट डील का भी आरोप है। ऑस्ट्रेलियाई अरबपति जेम्स पेकर से जुड़े एक मामले में भी पुलिस को नेतन्याहू पर धोखाधड़ी और लोगों का भरोसा तोड़ने का संदेह है।

एजेंसी | येरूशलम

इजरायल में अगले साल चुनावों से पहले पुलिस ने प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार के दो मामलों में मुकदमा चलाने की सिफारिश की है। पुलिस ने कहा है कि नेतन्याहू पर रिश्वत लेने, धोखाधड़ी करने और भरोसा तोड़ने के आरोपों में मुकदमा चलाया जाना चाहिए। नेतन्याहू पर 19.23 करोड़ रुपए के महंगे उपहार लेने का आरोप है।

आरोप लगने के बाद नेतन्याहू ने इजरायली टीवी में जारी बयान में कहा कि आरोप बेबुनियाद हैं और वे इस्तीफा नहीं देंगे। इजरायल के कानून मंत्री ने कहा है कि पीएम पर जिन मामलों में आरोप लगे हैं, उनमें इस्तीफा देने की बाध्यता नहीं है। नेतन्याहू से पुलिस अब तक 7 बार पूछताछ कर चुकी है। 68 वर्षीय नेतन्याहू दूसरी बार प्रधानमंत्री बने हैं और वे 2009 से इस पद पर हैं। 1996 से 1999 तक वे पहली बार पीएम बने रहे। इजरायल के कानून के अनुसार पीएम को आरोपी बनाकर मुकदमा चलाने की जिम्मेदारी अटॉर्नी जनरल कार्यालय की है।