• Home
  • Haryana News
  • Kadma
  • हत्या के मुकदमा नंबर 430 में गवाही प्रक्रिया पूरी अब रामपाल सहित 14 आरोपियों के होंगे बयान दर्ज
--Advertisement--

हत्या के मुकदमा नंबर 430 में गवाही प्रक्रिया पूरी अब रामपाल सहित 14 आरोपियों के होंगे बयान दर्ज

सतलोक आश्रम प्रकरण में महिला रजनी की हत्या के मामले में अतिरिक्त सेशन जज अजय पराशर की कोर्ट सुनवाई चल रही है।...

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 03:10 AM IST
सतलोक आश्रम प्रकरण में महिला रजनी की हत्या के मामले में अतिरिक्त सेशन जज अजय पराशर की कोर्ट सुनवाई चल रही है। मामले में सोमवार को रामपाल की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हाजिरी हुई। अन्य 13 आरोपियों को पुलिस ने अदालत में पेश किया। प्रकरण में दो इंस्पेक्टरों सहित पांच पुलिसकर्मियों की गवाही हुई। इसके साथ अदालत में गवाही की प्रक्रिया पूरी हो गई। अदालत ने मामले में अगली सुनवाई के लिए 29 जनवरी की तिथि तय की है।

बरवाला सतलोक आश्रम प्रकरण को लेकर सेंट्रल जेल वन में लगी अदालत में मुकदमा नंबर 430 में महिला रजनी की मौत के मामले का ट्रायल चल रहा है। इस प्रकरण में रामपाल सहित 14 आरोपी हैं। प्रकरण के ट्रायल के दौरान सोमवार को पांच गवाह अदालत में तलब किए गए थे। इसमें इंस्पेक्टर कपिल सिहाग, प्रदीप, एसआई विक्रम सिंह, एएसआई विनोद, एचसी फलेल सिंह शामिल थे। अदालत में पांचों की गवाही के दौरान रामपाल के अधिवक्ता महेंद्र सिंह नैन एवं अन्य ने गवाहों से जिरह की।

हत्या मामले में अब तक 29

लोगों की हो चुकी गवाही

हत्या के मामले में गवाही की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। प्रकरण में 29 गवाहों ने अदालत में गवाही दी। अब इस प्रकरण में शामिल रामपाल सहित 14 आरोपियों के धारा 313 के तहत बयान दर्ज किए जाएंगे। बयान दर्ज होने के बाद प्रकरण में अदालत अपना फैसला सुनाएगी।

ये हैं 430 के आरोपी

हत्या के मुकदमा नंबर 430 में रामपाल के अलावा राजकपूर उर्फ प्रीतम, राजेंद्र, वीरेंद्र, जोगेंद्र, कृष्ण जेल में हैं। आठ आरोपी राजेश, बलवान, पवन, नटवर, रामचंद्र, राजीव शर्मा, राजेश उर्फ रमेश, बबिता जमानत पर बाहर हैं।

पुलिस अलर्ट, रामपाल के समर्थकों

को दूर तक खदेड़ा गया

पुलिस ने रेलवे स्टेशन से रामपाल के किसी भी समर्थक को शहर में प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी। पुलिस समर्थकों को स्टेशन पर रोके रखा। इसके बाद भी सैकड़ों समर्थक शहर में प्रवेश में कराए। कई बार पुलिस ने जेल की तरफ आने वाले समर्थकों को दूर तक खदेड़ दिया। इसके बाद समर्थक जिंदल पार्क, टाउन पार्क, जिमखाना क्लब में बैठे नजर आए।