Hindi News »Haryana »Kadma» दो झोलाछाप डॉक्टरों ने बताया, गर्भ में बेटी है, बेटा हुआ तो बच्चे का लिंग काटकर हत्या कर दी

दो झोलाछाप डॉक्टरों ने बताया, गर्भ में बेटी है, बेटा हुआ तो बच्चे का लिंग काटकर हत्या कर दी

भास्कर न्यूज नेटवर्क | चतरा झारखंड में चतरा जिले के झटखोरी में दो झोलाछाप डॉक्टरों ने मंगलवार को गुपचुप तरीके से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 26, 2018, 02:40 AM IST

भास्कर न्यूज नेटवर्क | चतरा

झारखंड में चतरा जिले के झटखोरी में दो झोलाछाप डॉक्टरों ने मंगलवार को गुपचुप तरीके से एक नवजात का लिंग काट दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। ऐसा उन्होंने इसलिए किया क्योंकि एक दिन पहले अल्ट्रासाउंड कर उन्होंने बता दिया था कि बेटी होगी। बेटा हुआ तो बदनामी से बचने के लिए बच्चे का लिंग काट दिया।

खून ज्यादा बहने से बच्चे की मौत हो गई और शव को झाड़ियों में फेंक दिया। दोनों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने चतरा में सिविल सर्जन को इन दोनों पर एफआईआर दर्ज कराने और मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के लिए कहा है। अनुज कुमार और अरुण कुमार झटखोरी में अवैध रूप से क्लीनिक चला रहे थे। दोनों बिहार के बाराचट्‌टी के रहने वाले हैं और फरार हैं। यहां चोरी-छिपे गर्भवती महिलाओं का अल्ट्रासाउंड भी करते थे। पैसे के लिए बता देते थे कि गर्भ में पल रहे शिशु का लिंग क्या है। बलिया गांव की गुड्डी देवी को 8 माह का गर्भ था। मंगलवार को उसे दर्द उठा तब वह यहां अनुज कुमार के क्लीनिक पहुंची। यहां अरुण और अनुज ने उसका अल्ट्रासाउंड किया और बताया कि उसके पेट में बच्ची पल रही है। जब बच्चे का जन्म हुआ, तो वह लड़का निकला। बदनामी से बचने के लिए दोनों ने मिलकर उस नवजात शिशु का लिंग काट दिया, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kadma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×