Hindi News »Haryana »Kadma» सुप्रीम कोर्ट ने बांग्लादेश की पूर्व पीएम खालिदा जिया को दी बेल

सुप्रीम कोर्ट ने बांग्लादेश की पूर्व पीएम खालिदा जिया को दी बेल

ढाका| बांग्लादेश के सुप्रीम कोर्ट ने देश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के मामले में बुधवार को...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 17, 2018, 02:45 AM IST

  • सुप्रीम कोर्ट ने बांग्लादेश की पूर्व पीएम खालिदा जिया को दी बेल
    +1और स्लाइड देखें
    ढाका| बांग्लादेश के सुप्रीम कोर्ट ने देश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के मामले में बुधवार को जमानत दे दी। कोर्ट ने खालिदा को 12 मार्च में हाईकोर्ट की ओर से दी गई जमानत को बरकरार रखा। मुख्य विपक्षी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) की प्रमुख जिया पर अनाथों के लिए काम करने वाले ट्रस्ट के लिए मिले दो करोड़ 10 लाख टका (रुपए) के विदेशी सहायता में हेराफेरी करने का आरोप है। ट्रायल कोर्ट ने उन्हें इस मामले में दोषी ठहराते हुए 5 फरवरी को 5 साल जेल की सजा सुनाई थी। इसे उन्होंने हाईकोर्ट में चुनौती दी है। इस पर हाईकोर्ट 31 जुलाई को सुनवाई करेगा। कोर्ट में जिया ने अनाथालय ट्रस्ट मामले में अभियुक्त ठहराए जाने और 5 साल की सजा को खत्म करने का अनुरोध किया है।

    पाक के पूर्व तानाशाह का दावा

    करगिल युद्ध में शरीफ के चलते पाक सेना पीछे हटी थी : मुशर्रफ

    इस्लामाबाद| पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्रफ ने अपदस्थ प्रधानंमत्री नवाज शरीफ को 1999 में पाकिस्तान की सेना के मजबूत स्थिति में होने के बाद भी भारत के दबाव में करगिल से पीछे हटने के लिए जिम्मेदार ठहराया है। करगिल लड़ाई के दौरान सेना प्रमुख रहे मुशर्रफ ने यह भी मांग की कि शरीफ पर 2008 के मुम्बई हमले के बारे में विवादास्पद बयान देने को लेकर राजद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए। पाकिस्तान में कई मामलों का सामना कर रहे जनरल मुशर्रफ पिछले साल से दुबई में रह रहे हैं। उन्हें मेडिकल के लिए देश से बाहर जाने की अनुमति दी गई थी। जनरल परवेज मुशर्रफ ने शरीफ के इस दावे को खारिज कर दिया कि करगिल से पाकिस्तानी सेना के हटने के बारे में उन्हें विश्वास में नहीं लिया गया।

    फिलिस्तीनियों पर कार्रवाई से तुर्की खफा

    इजरायली फायरिंग का विरोध, तीन देशों ने दूत वापस बुलाए

    अंकारा/लंदन| अमेरिका का दूतावास येरूशलम शिफ्ट करने के विरोध में गाजा सीमा पर फिलिस्तीनियों के प्रदर्शन के दौरान इजरायल की गोलीबारी से मरने वालों की संख्या 61 हो गई है। इस बीच, इजरायल की गोलीबारी के विरोध में बेल्जियम, दक्षिण अफ्रीका और तुर्की ने अपने दूत वापस बुला लिए हैं। तुर्की ने एक कदम आगे कार्रवाई करते हुए इजरायली राजदूत को देश छोड़ने का आदेश दिया है। तुर्की विदेश मंत्रालय ने इजरायली राजदूत ईटन नाहे को तलब किया और देश छोड़ने को कहा। राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने फायरिंग को नरसंहार बताया। उन्होंने फिलिस्तीनियों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने लिए तीन दिन के राष्ट्रीय शोक का एलान किया और इस्तांबुल में 18 मई को इस्लामी देशों की एकजुटता रैली आयोजित करने की बात कही। उधर, अमेरिका ने कहा- गाजा हिंसा के लिए फिलिस्तीनी संगठन हमास जिम्मेदार है।

    यूपी पुलिस का दावा

    दोस्त के तमंचे से चली गोली से हुई थी सहारनपुर में भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई की मौत

    सहारनपुर, उत्तर प्रदेश| यूपी की सहारनपुर पुलिस ने भीम आर्मी के जिला अध्यक्ष कमल वालिया के छोटे भाई सचिन वालिया की मौत की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने इस मामले में सचिन के दोस्त प्रवीण उर्फ मांडा को गैर-इरादतन हत्या के आरोप में मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। रामनगर निवासी प्रवीण के पास से पुलिस ने एक तमंचा भी जब्त किया है। पुलिस के अनुसार प्रवीण ने पूछताछ में बताया कि घटना वाले दिन 9 मई को सचिन ने उसे फोन करके निहाल के घर बुलाया था। वहां उसके कुछ दोस्त मौजूद थे। इसी दौरान तमंचे से खेलते समय ट्रिगर दब गया और गोली सचिन के मुंह पर लगी। पुलिस ने प्रवीण के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या और अवैध तमंचा रखने के अपराध में केस दर्ज किया है।

  • सुप्रीम कोर्ट ने बांग्लादेश की पूर्व पीएम खालिदा जिया को दी बेल
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kadma

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×