• Home
  • Haryana News
  • Kaithal
  • किसानों की अनदेखी की तो विधायक आवास पर फेंकेंगे गन्ना
--Advertisement--

किसानों की अनदेखी की तो विधायक आवास पर फेंकेंगे गन्ना

भारतीय किसान संघ के प्रदेश प्रवक्ता रणदीप आर्य फरल ने आरोप लगाया कि हरियाणा की सभी शुगर मिलों में अधिकारियों की...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:20 AM IST
भारतीय किसान संघ के प्रदेश प्रवक्ता रणदीप आर्य फरल ने आरोप लगाया कि हरियाणा की सभी शुगर मिलों में अधिकारियों की मिलीभगत से 3 हजार करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा हुआ है। इसी तरह मात्र 20 दिनों में फर्जी तरीके से 6 करोड़ 63 लाख रुपए की राशि कैथल शुगर मिल में रिपेयर खर्च दिखाकर बड़े घोटाले को अंजाम दिया है।

भ्रष्टाचार के मामले में अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर 27 मार्च को संघ प्रतिनिधिमंडल वित्त मंत्री से मिला था। किसानों की बैठक की अध्यक्षता किसान संघ के जिलाध्यक्ष गुलतान नैन ने की। उन्होंने आरोप लगाया कि कैथल गन्ना प्रशासन अपने चहेतों के लिए फर्जी तरीके से अधिक बांड (पर्ची) किए हैं। जिस कारण सामान्य किसान मजबूर होकर दूसरे राज्यों में औने-पौने दामों पर गन्ना बेचने को विवश हैं। नैन ने कहा कि किसानों को यह कहकर खुश किया जा रहा है कि ढाई लाख क्विंटल शाहाबाद मिल में गन्ना लिया जाएगा, जो किसानों के साथ धोखा है क्योंकि किसानों पर 100 किलोमीटर जाने का खर्च बढ़ेगा। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर किसानों का पूरा गन्ना नहीं लिया तो किसान आंदोलन करेंगे और सारा गन्ना डीसी कार्यालय व विधायकों के आवास के सामने डालने पर मजबूर होंगे।

जिला उपाध्यक्ष श्रीराम मोहना ने कहा कि शुगर मिल के घोटाले व गन्ना किसानों की अनदेखी के विरोध में दो अप्रैल को किसान मिल गेट पर एकत्रित होकर आंदोलन की आगामी रूपरेखा तैयार की जाएगी और प्रशासन पर दबाव बनाया जाएगा।

ढांड|भाकिसं के प्रदेश प्रवक्ता रणदीप आर्य व जिलाध्यक्ष गुल्तान नैन।