पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • करनाल रोड और टीक गांव में Rs.25 25 करोड़ से बनेंगे आरओबी, शॉपिंग मॉल से जल्द होगी शुरुआत

करनाल रोड और टीक गांव में Rs.25-25 करोड़ से बनेंगे आरओबी, शॉपिंग मॉल से जल्द होगी शुरुआत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लघु सचिवालय के सामने करनाल रोड रेलवे फाटक व गांव टीक से पहले रेलवे लाइन पर ओवरब्रिज बनाया जाएगा। प्रदेश सरकार की अप्रूवल के बाद केंद्र सरकार ने भी रेलवे बजट में आरओबी बनाने का प्रोविजन रखा है। स्टेट की तरफ से दोनों आरओबी के लिए 25-25 करोड़ रुपए का बजट भी तय किया गया है। पदमासिटी मॉल से ओवरब्रिज का निर्माण शुरू होगा। हुडा व लघु सचिवालय के वाहनों के लिए दो अंडरपास बनेंगे।

इससे सेक्टर व सचिवालय में आने-जाने की दिक्कत नहीं रहेगी। कैथल की अनाज मंडी में हुई रैली के दौरान सीएम ने करनाल रोड पर रेलवे ओवरब्रिज बनाने की घोषणा की थी। अक्टूबर 2016 में तो सीएम ने इसके लिए 50 करोड़ रुपए भी मंजूर किए लेकिन सेंटर से इसे मंजूरी नहीं मिल सकी थी। इस बार के रेलवे बजट में सेंटर ने दोनों को प्रोविजन में यह रखते हुए इस साल बनाना जाना तय किया है।

सुविधा| हुडा व लघु सचिवालय के वाहनों के लिए बनेंगे दो अंडरपास

कैथल |करनाल रोड के इसी फाटक पर बनेगा रेल ओवरब्रिज।

शहर का सबसे व्यस्त मार्ग : करनाल रोड शहर का सबसे व्यस्त मार्ग है। रेलवे फाटक बंद होते ही यहां पर दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग जाती है। फाटक खुलने के बाद यहां जाम लग जाता है। इसी कारण शहर के लोग करीब 10 साल पहले इस फाटक पर रेलवे ओवरब्रिज बनाने की मांग करते रहे हैं। शहर के महेंद्र, श्याम, बीर सिंह, मोहित, बलविंद्र, लाजपत राय, मोहन, कल्याण ने कहा कि पिछले काफी समय से लोग यहां पर ओवरब्रिज बनाने की मांग कर रहे थे।

जाम से निजात के लिए रेललाइनों पर प्रावधान

करनाल रोड आरओबी से पूरे शहर के लोगों को काफी फायदा होगा। लोगों को जाम से निजात मिलेगी। इससे पहले कैथल में जींद रोड रेलवे फाटक पर ओवरब्रिज बनाया जा चुका है। यहां पर अंडरब्रिज भी बनाया है। इसके अलावा खनौरी-पातड़ा मार्ग बाइपास पर भी रेलवे क्रॉसिंग पर अंडरब्रिज बनाया गया है। इन सभी का शहर के लोगों को फायदा हो रहा है।

गांव टीक का आरओबी 900 मीटर लंबा बनेगा

टीक गांव से पहले बनने वाले रेलवे ओवर ब्रिज की ड्रॉइंग भी पीडब्ल्यूडी ने तैयार कर ली है। इसकी लंबाई करीब 900 मीटर होगी। यह आरओबी बनने से रोज कुरुक्षेत्र, यमुनानगर, हरिद्वार, सिरसा, हिसार व राजस्थान जाने वाले हजारों वाहन चालकों को इसका लाभ मिलेगा।

सेंटर से मिली मंजूरी, इसी साल बनेंगे आरओबी

प्रदेश सरकार ने पहले ही अप्रूवल दे रखी है। करनाल रोड व टीक गांव से पहले ओवर ब्रिज के लिए 25-25 करोड़ रुपए का बजट है। सेंटर की तरफ से भी मंजूरी मिली है। जल्द ही बजट भी आ जाएगा। इस वर्ष में दोनों आरओबी बनाने हैं। सुभाष, एसई, पीडब्ल्यूडी एंड बीआर कैथल

रेलवे बजट के प्रोविजन में रखे : राव सुरेन्द्र

आरओबी शहर के लोगों की मांग है। इसी साल सीएम मनोहर लाल ने कैथल अनाज मंडी में हुई रैली के दौरान यह मंजूर किया था। इस बार के रेलवे बजट में इसका प्रोविजन रखा गया है। जल्द ही काम शुरू करवाया जाएगा। राव सुरेंद्र, वरिष्ठ भाजपा नेता

खबरें और भी हैं...