• Hindi News
  • Haryana
  • Kaithal
  • भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार सरपंच मात्र 12वीं पास, पत्नी की बीएएमएस की डिग्री पर खुद बना बैठा था ड
--Advertisement--

भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार सरपंच मात्र 12वीं पास, पत्नी की बीएएमएस की डिग्री पर खुद बना बैठा था डॉक्टर

भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार मलिकपुर समाणा के सरपंच धर्मपाल सिंह के बारे में पुलिस जांच में कई खुलासे हुए हैं। खुद...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 04:15 AM IST
भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार सरपंच मात्र 12वीं पास, पत्नी की बीएएमएस की डिग्री पर खुद बना बैठा था ड
भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार मलिकपुर समाणा के सरपंच धर्मपाल सिंह के बारे में पुलिस जांच में कई खुलासे हुए हैं। खुद को बीएएमएस (बैचलर अॉफ आयुर्वेद विद मेडिसिन एंड सर्जरी) बता पंजाब के गांव समाणा में क्लीनिक चला रहा धर्मपाल 12वीं पास ही है।

गिरफ्तारी के दौरान सरपंच से काउंसिल ऑफ अल्टरनेटिव सिस्टम ऑफ मेडिशियन पंजाब का पहचान पत्र मिला था। जिसमें योग्यता बीएएमएस व रजिस्ट्रेशन नंबर 31252 अंकित है। जबकि इस संस्था पर पिछले साल फरवरी में पंजाब के आयुर्वेद एवं यूनानी सिस्टम अॉफ मेडिसिन बोर्ड ने रेड की थी। मौके से कई फर्जी सर्टिफिकेट मिले थे। गुहला थाने के अधीन आने वाली महमूदपुर चौकी इंचार्ज सतपाल सिंह के मुताबिक पता चला है कि धर्मपाल की प|ी के पास बीएएमएस की डिग्री है। हालांकि अभी यह नहीं पता चला है कि डिग्री कहां की है। अंदेशा है कि धर्मपाल प|ी की डिग्री की आड़ में ही पहचानपत्र बनाकर क्लीनिक चला रहा था। कैथल के सीएमओ डॉ. अशोक चौधरी के मुताबिक विभाग की टीम ने सरपंच को काबू कर पुलिस को सौंप दिया था। अब पुलिस जांच को स्वास्थ्य विभाग को लिखकर देगी तो हम जांच कर लेंगे। पंजाब क्षेत्र का मामला तो पंजाब का स्वास्थ्य विभाग देखा।

सरपंच के पास जिस संस्था का बीएएमएस का पहचान पत्र मिला, उस पर फर्जी सर्टिफिकेट बनाने का केस

आरोपी सरपंच का साथी बोला-पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन तो भाखड़ा नहर में फेंकी

भ्रूण लिंग जांच के लिए प्रयोग की गई पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन आरोपी मलकीत ने भाखड़ा नहर में फेंक दी थी। महमूदपुर चौकी पुलिस ने पंजाब के गांव छन्ना के मलकीत को काबू कर अल्ट्रासाउंड मशीन बरामद करने को दो दिन का रिमांड लिया था। रिमांड के दौरान वह पुलिस को गुमराह करता रहा। आरोपी के कहने पर मशीन बरामदगी को पुलिस उसे पंजाब के लुधियाना व सरहिंद ले गई। बाद में पता चला कि मशीन आरोपी ने गढ़ी नजीर के पास भाखड़ा में फेंक दी थी। मशीन को नहर में फेंककर वह पुलिस से बचने को छिपता रहा। रिमांड में खुलासा किया कि गर्भ में भ्रूण लिंग जांच को वह 6 हजार लेकर अपना घर किराए पर देता था, अल्ट्रासाउंड मलिकपुर का सरपंच धर्मपाल ही करता था। 21 जनवरी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव मलिकपुर समाणा के सरपंच धर्मपाल सिंह को भ्रूण लिंग जांच के आरोप में काबू किया था। छन्ना का मलकीत मशीन लेकर फरार हो गया था।

आरोपी सरपंच के पास से बरामद पहचान पत्र।

X
भ्रूण लिंग जांच में गिरफ्तार सरपंच मात्र 12वीं पास, पत्नी की बीएएमएस की डिग्री पर खुद बना बैठा था ड
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..