Hindi News »Haryana »Kaithal» एलईपी का परिणाम : तीसरी के 34 फीसदी छात्रों की मेरिट व आठवीं के 32 प्रतिशत फेल

एलईपी का परिणाम : तीसरी के 34 फीसदी छात्रों की मेरिट व आठवीं के 32 प्रतिशत फेल

एनसीईआरटी (नेशनल काउंसिल ऑफ एजूकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग) की ओर से देश में शिक्षा स्तर जांचने के लिए तीसरी, पांचवीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:15 AM IST

एनसीईआरटी (नेशनल काउंसिल ऑफ एजूकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग) की ओर से देश में शिक्षा स्तर जांचने के लिए तीसरी, पांचवीं और आठवीं कक्षा के टेस्ट का परिणाम घोषित कर दिया है। कैथल की तीसरी और पांचवीं का परिणाम जहां अच्छा आया है वहीं 8वीं का खराब रहा। तीसरी कक्षा के 34 फीसदी छात्रों ने 75 से ऊपर अंक लेकर मेरिट में स्थान हासिल किया।

जबकि 8वीं के 32% छात्रों ने 30 से भी कम अंक लाकर फेल हुए हैं। 13 नवंबर 2017 को जिले के 153 स्कूलों में 3710 बच्चों का एलईपी (लर्निंग इनह्रास प्रोग्राम) के तहत टेस्ट लिया था। इसमें 61 स्कूलों की तीसरी कक्षा के 1167 छात्र, 61 स्कूलों की पांचवीं कक्षा के 1286 व 51 स्कूलों की आठवीं कक्षा के 1257 छात्राओं को शामिल किया गया था। स्कूलों का चयन एनसीईआरटी ने किया था।

ऐसी ही परीक्षा पांच फरवरी को 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों की ली जाएगी। इसके लिए एनसीईआरटी ने कैथल की 80 स्कूलों की लिस्ट शिक्षा विभाग के पास भेजी है। आठवीं के परिणाम में पिछड़ने के बाद 10वीं पर विभाग ने जोर लगाया है ताकि आगे का परिणाम अच्छा आ सके।

डीईओ बोले-रिजल्ट में क्या कमी रही इस पर हुई है चर्चा, करेंगे सुधार

8वीं कक्षा के रिजल्ट को लेकर चर्चा करते डीईओ शमशेर सिरोही व अन्य

8वीं में हिंदी से उलट 3 विषयों का परिणाम

51 स्कूलों के 1257 बच्चों ने आठवीं की परीक्षा दी थी। हिंदी विषय के बिना परिणाम को देखें तो 0-30 अंकों के बीच 38.55 फीसदी, 31-50 अंकों के बीच 40.75 फीसदी, 51-75 अंकों के बीच 19 फीसदी और 75 से ऊपर में 1.66 फीसदी छात्र की शामिल हैं। हिंदी जुड़ने के बाद 75 से ज्यादा वाले 6.04, 50-75 के बीच वाले 25.61 फीसदी हो जाते हैं।

तीसरी, 5वीं में 45 व 8वीं में 60 प्रश्न पूछे

तीसरी व पांचवीं में ईवीएस (पर्यावरण अध्ययन), हिंदी व गणित विषय के 15-15 प्रश्नों के साथ 45 प्रश्न पूछे गए। आठवीं में हिंदी, गणित, साइंस व एसएसटी के 15-15 प्रश्नों के साथ कुल 60 प्रश्न पूछे गए। एक स्कूल से अधिकतर 30 छात्रों को परीक्षा में बैठाया गया था।

तीसरी कक्षा के 1167 बच्चों ने दी थी परीक्षा

अंक ईवीएस हिंदी गणित प्रतिशत

0-30 139 78 140 10.19

31-50 196 192 288 22.64

51-75 467 434 375 36.44

75-100 365 463 364 34.05

पांचवीं कक्षा के 1286 बच्चों ने दी थी परीक्षा

अंक ईवीएस हिंदी गणित प्रतिशत

0-30 213 120 260 15.37

31-50 399 312 417 29.24

51-75 483 539 411 37.14

75-100 191 315 198 18.24

आठवीं कक्षा के 1257 बच्चों ने दी थी परीक्षा

अंक हिंदी गणित साइंस एसएस प्रतिशत

0-30 133 575 424 455 31.56

31-50 314 462 547 526 36.79

51-75 569 206 252 261 25.61

75-100 241 14 34 15 6.04

डीईओ शमशेर सिंह सिरोही ने कहा कि 8वीं के रिजल्ट में क्या कमियां रही इस पर सभी बीईओ, एबीआरसी, सीनियर लेक्चरार, डाइट प्रिंसिपल व अन्य सीनियर को बुला चर्चा की। सुधार के लिए सामने आए बिंदुओं पर काम किया जाएगा।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: एलईपी का परिणाम : तीसरी के 34 फीसदी छात्रों की मेरिट व आठवीं के 32 प्रतिशत फेल
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Kaithal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×