कैथल

  • Hindi News
  • Haryana News
  • Kaithal
  • छोटे साहिबजादों के शहीदी दिवस को बाल दिवस के रूप में मनाया जाए, पंजाबी बने दूसरी भाषा
--Advertisement--

छोटे साहिबजादों के शहीदी दिवस को बाल दिवस के रूप में मनाया जाए, पंजाबी बने दूसरी भाषा

कैथल| पत्रकारों से बातचीत करते हुए एचएसजीपीसी अध्यक्ष जगदीश झिंडा। भास्कर न्यूज | कैथल हरियाणा सिख...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 04:15 AM IST
कैथल| पत्रकारों से बातचीत करते हुए एचएसजीपीसी अध्यक्ष जगदीश झिंडा।

भास्कर न्यूज | कैथल

हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की बैठक प्रदेशाध्यक्ष जगदीश सिंह झींडा की अध्यक्षता में नीम साहिब गुरुद्वारा में हुई। बैठक में कार्यकारिणी व धर्म प्रचार कमेटी के सदस्यों ने हिस्सा लिया और पांच प्रस्ताव पास किए। सभी पास प्रस्तावों बारे में प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि हिंदुत्व की बात करने वाली बीजेपी सरकार यदि विश्व में अपना डंका बजाना चाहती है और कुछ अलग दिखाना चाहती है तो हिंदी को पहला और पंजाबी को दूसरी भाषा का दर्जा दिया जाना चाहिए। हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी इस बार अपने स्तर पर प्रदेशस्तरीय भारतीय परम्परा अनुसार चैत्र माह के पहली तारीख को नया साल मनाएगी। इसमें सीएम को आमंत्रित किया जाएगा। बैसाखी के दिन अवकाश किया जाता था, लेकिन प्रदेश सरकार ने इस अवकाश को रद्द कर दिया है। इससे सिख समाज की भावनाओं को ठेस पहुंची है। छोटी उम्र में छोटे साहिबजादों ने बड़ी कुर्बानी दी। उनकी याद में 23 से 30 दिसंबर को बाल दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए। बैठक में जनरल सचिव जोगा सिंह, सीनियर उप प्रधान दीदार सिंह नलवी, उप प्रधान अवतार सिंह चक्कू, सदस्य बलदेव सिंह बल्ली, जगदेव सिंह, स्वर्ण सिंह रतिया, सुरेंद्र शाह, हरप्रीत नरुला, बलदेव फौजी, धर्म प्रचार कमेटी सदस्य रवेल सिंह जींद, कृष्ण सिंह रोहतक, मेहर सिंह जींद, सुखराज फतेहाबाद, स्वर्ण सिंह पेहवा सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

ये प्रस्ताव हुए पास






प्रदेश में जनता अकाली दल 29 सीटों पर लड़ेगा चुनाव बादल गुट का हर जगह होगा कड़ा विरोध

कैथल। जनता अकाली दल के प्रदेशाध्यक्ष जगदीश सिंह झींडा ने कहा कि बादल गुट से प्रदेश में चुनाव लड़ने वाला उम्मीदवार हरियाणा का गद्दार होगा। बादल ने हमेशा हरियाणा के हितों पर डाका डाला है। प्रदेश का सिख समाज जागृत हो चुका है। वे नीम साहिब गुरुद्वारा में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। झींडा ने कहा एसवाईएल के मामले में बादल ने हरियाणा को एक बूंद पानी नहीं देने दिया। हाईकोर्ट व चंडीगढ़ के मामले में भी हरियाणा के हितों से खिलवाड़ किया। उन्होंने कहा उनका दल प्रदेश में सिख बाहुल्य 29 सीटों पर विधानसभा का चुनाव लड़ेगा। इसकी तैयारियां चल रही हैं। घर-घर जाकर सिख समाज को जागृत किया जा रहा है। पहले पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने कहा वे 90 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, फिर बोले 35 सीटों पर चुनाव लड़ेेंगे। उन्होंने कहा कि बादल परिवार को प्रदेश के सिखों पर विश्वास ही नहीं है।

X
Click to listen..